Current Affairs Hindi – February 8 2019

हैलो दोस्तों, www.affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 8 फरवरी ,2019  के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स  को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं। हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – 7 February 2019Current Affairs February 8 2019

INDIAN AFFAIRS

6 फरवरी, 2019 को कैबिनेट की स्वीकृति:Cabinet Approvals on 6th February, 20197 फरवरी 2019 को, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने निम्नलिखित स्वीकृतियो को मंजूरी दी।
मंत्रिमंडल ने कैबिनेट ‘आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए संविधान में संशोधन’ के संदर्भ में संशोधित कार्यालय ज्ञापन को मंजूरी दी:
i.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आरक्षण प्रदान करने के लिए संविधान संशोधन के संबंध में संशोधित कार्यालय ज्ञापन को मंजूरी दी है।
ii.यह संशोधन समाज के सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को रोजगार, शिक्षा और प्रतियोगी परीक्षाओं में अवसर प्रदान करके सामाजिक न्याय को प्रोत्साहित करेगा।
iii.संविधान (103 संशोधन) अधिनियम संविधान के अनुच्छेद 15 और 16 में संशोधन करता है और यह आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को सरकारी नौकरियों और शिक्षा में 10% आरक्षण प्रदान करेगा।
कैबिनेट ने डीपीई द्वारा निर्धारित एएआई के अधिकारियों को कुछ भत्तों के नियमितीकरण को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण (एएआई) की परिचालन श्रेणी के विशिष्ट कर्मचारियों यथा हवाई यातायात नियंत्रकों, संचार अधिकारियों और पायलट को सार्वजनिक उद्यम विभाग (डीपीई) द्वारा निर्दिष्ट 50 प्रतिशत (संशोधन-पूर्व)/25 प्रतिशत (संशोधित) सीमा के अलावा दिये जा रहे कुछ विशेष भत्तों के नियमितीकरण को मंजूरी दे दी है।
ii.इन भत्‍तों में रेटिंग भत्‍ता, कार्य दबाव भत्‍ता, प्रवीणता भत्‍ता, उड़ान भत्‍ता और प्रशिक्षक भत्‍ता शामिल हैं। कैबिनेट ने इसके साथ ही इन भत्‍तों को 35 प्रतिशत (संशोधित) सीमा के दायरे से बाहर रखने की भी स्‍वीकृति दे दी है।
iii.यह निर्णय इस तथ्‍य को ध्‍यान में रखते हुए लिया गया है कि हवाई यातायात में कई गुना वृद्धि हुई है और ये तकनीकी कर्मी आकाश में उड़ानों को अत्‍यंत सुरक्षित रखते हैं।
मंत्रिमंडल ने आयकर शिकायत जांच संस्‍था और अप्रत्‍यक्ष कर शिकायत जांच संस्‍था को समाप्‍त करने की मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने आयकर शिकायत जांच संस्था और अप्रत्यक्ष कर शिकायत जांच संस्था को समाप्त करने की मंजूरी दे दी है।
ii.उन्मूलन की यह मंजूरी अन्य शिकायत निवारण तंत्रों जैसे कि आयकर सेवा केंद्र,केन्‍द्रीकृत लोक शिकायत निवारण और निगरानी प्रणाली, आदि को प्राथमिकता देने वाली जनता की तेहरिज के संबंध में है।
iii.दोनों संस्थान- अप्रत्यक्ष कर लोकपाल और आयकर लोकपाल अपनी प्रभावशीलता प्रकट करने और अपने उद्देश्यों को प्राप्त करने में विफल रहे हैं, जिसके परिणामस्वरूप शिकायतों की संख्या में गिरावट आई है।
मंत्रिमंडल ने एनटीपीसी लिमिटेड की निर्माणाधीन परियोजनाओं के अंतर्गत गृह राज्य को बिजली का अधिक आवंटन करने संबंधी प्रस्ताव को मंजूरी दी:
i.प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में आज एनटीपीसी लिमिटेड के तेलंगाना सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट (4000 मेगावॉट) से उत्पादित 85 प्रतिशत बिजली तेलंगाना सरकार को देने की मंजूरी दी है।
ii.एनटीपीसी लिमिटेड की अनुषंगी कंपनी पतरातू विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (पीवीयूएनएल) के पतरातू थर्मल पावर स्टेशन (4000 मेगावॉट) की विस्तारित परियोजना से 85 प्रतिशत बिजली झारखंड सरकार को देने के विद्युत मंत्रालय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।
iii.तेलंगाना और झारखंड को ये दोनों आवंटन प्रगति और सतत विकास सुनिश्चित करने और राज्य के बिजली परिदृश्य को बेहतर बनाने के लिए एक प्रभाव डालेंगे।
iv.दोनों परियोजनाओं को दो चरणों में आवंटित किया जाएगा:
-पहला प्रोजेक्ट तेलंगाना सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट पेडापल्ली जिले के रामागुंडम में लगाया जाएगा। टीएसटीपीपी के पहले चरण में दो इकाइयां होंगी, जिनमें से प्रत्येक की क्षमता 800 मेगावॉट होगी। दूसरे चरण में तीन इकाइयां होगीं, जिनमें से प्रत्येक की क्षमता 800 मेगावॉट होगी।
-दूसरा प्रोजेक्ट झारखंड के रामगढ़ जिले के पतरातू में लगाया जाएगा। पहले चरण में 800 मेगावाट की 3 इकाइयां और दूसरे चरण में 800 मेगावाट की 2 इकाइयां शामिल होंगी।
तेलंगाना
♦ राजधानी: हैदराबाद
♦ मुख्यमंत्री: के चंद्रशेखर राव
♦ राज्यपाल: ई.एस.एल. नरसिम्हन
झारखंड
♦ राजधानी: रांची
♦ मुख्यमंत्री: रघुबर दास
♦ राज्यपाल: द्रौपदी मुर्मू
मंत्रिमंडल ने संसद में राष्‍ट्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी, उद्यमिता एवं प्रबंधन संस्‍थान विधेयक, 2019 को पेश किये जाने की मंजूरी दी:
i.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने राष्‍ट्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी, उद्यमिता एवं प्रबंधन संस्‍थान विधेयक, 2019 को पेश किये जाने की मंजूरी दे दी है। इस विधेयक का उद्देश्‍य राष्‍ट्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी, उद्यमिता एवं प्रबंधन संस्‍थान (एनआईएफटीईएम) कुंडली (हरियाणा) और भारतीय खाद्य प्रसंस्‍करण प्रौद्योगिकी संस्‍थान (आईआईएफपीटी), तंजावुर (तमिलनाडु) को ‘राष्‍ट्रीय महत्‍व के संस्‍थान’ का दर्जा प्रदान करना है।
ii.इस विधान से इन संस्‍थानों को अपने शैक्षिक पाठ्यक्रम की रूपरेखा तैयार करने और विकसित करने, अपने शैक्षिक क्रियाकलापों में अनुसंधान की ग‍तिविधियां और उसका दर्जा बढ़ाने के लिए संचालनात्‍मक स्‍वायतता मिलेगी।
iii.ये संस्‍थान सरकार की आरक्षण नीति लागू करेंगे और संबंधित हितधारकों के लाभ के लिए विशेष गतिविधियां भी चलायेंगे।
मंत्रिमंडल ने अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण अधिनियम,2019 के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र में सभी वित्तीय सेवाओ को नियमित करने के लिए एकीकृत प्राधिकरण की स्थापना को मंजूरी दी:
i.केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण अधिनियम,2019 के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र(आईएफसीएस) में सभी वित्तीय सेवाओ को नियमित करने के लिए एकीकृत प्राधिकरण की स्थापना को मंजूरी प्रदान की है।
ii.एकीकृत प्राधिकरण देश में आईएफसीएस के विकास के लिए वैश्विक कार्यप्रणाली के अऩुरूप समकालीन आवश्यक प्रोत्साहन प्रदान करेगा।
iii.एकीकृत प्राधिकरण आईएफसीएस और भारत सरकार द्वारा अधिसूचित वित्त से संबंधित सेवाओं, उत्पादों, संस्थानों को संभालेगा।
iv.एकीकृत प्राधिकरण में वे सभी शक्तियां होंगी जो संबंधित वित्तीय अधिकारियों जैसे कि आरबीआई, सेबी, आईआरडीएआई द्वारा संबंधित कृत्यों के तहत प्रयोग की जाती है।
v.यह प्राधिकरण भारत में आईएफसीएस के साथ-साथ भारत में वित्तीय क्षेत्र में रोजगार की सुविधा प्रदान करके आईएफसीएस के विकास को और बढ़ाएगा।
मंत्रिमंडल ने जलपाईगुड़ी में कलकत्ता उच्च न्यायालय की सर्किट पीठ की स्थापना को मंजूरी दी:
i.6 फरवरी 2019 को, प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में कलकत्ता उच्च न्यायालय की सर्किट पीठ की स्थापना को मंजूरी दी।
ii.इस सर्किट पीठ के अधिकार क्षेत्र में चार जिले दार्जिलिंग,कलिमपोंग, जलपाईगुड़ी और कूचबिहार सम्मिलित होंगे।
iii.यह निर्णय कलकत्ता हाईकोर्ट की वर्ष 1988 में हुई पूर्णकालिक बैठक के बाद हुए फैसले और 16 जून, 2006 को केंद्रीय मंत्रिमंडल के जलपाईगुड़ी में कलकत्ता उच्च न्यायालय की सर्किट पीठ की स्थापना को मंजूरी देने के निर्णय के अनुरूप लिया गया है।
पश्चिम बंगाल
♦ राजधानी: कोलकाता
♦ राज्यपाल: केशरी नाथ त्रिपाठी
♦ मुख्यमंत्री: ममता बनर्जी
कैबिनेट ने अनियमित जमा योजनाओं पर प्रतिबंध लगाने संबंधी विधेयक, 2018 में आधिकारिक संशोधन करने के प्रस्ता्व को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अवैध रूप से जमा राशि जुटाने के खतरे से कारगर ढंग से निपटने और इस तरह की योजनाओं के जरिये गरीबों लोगों की गाढ़ी कमाई हड़प लेने पर रोक लगाने की दृष्टि से अनियमित जमा योजनाओं पर प्रतिबंध लगाने संबंधी विधेयक, 2018 में आधिकारिक संशोधन करने के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी।
ii.यह वित्त संबंधी स्थायी समिति की सिफारिशों के तहत अनुमोदित किया गया।
iii.विधेयक में कठोर दंड देने और भारी जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है, ताकि  लोग इस तरह की गतिविधियों से बाज आ सकें।वित्त स्थायी समिति के प्रमुख- वीरप्पा मोइली
मंत्रिमंडल ने गौवंश के संरक्षण,सुरक्षा और विकास के लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग की स्थापना को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने गौवंश के संरक्षण,सुरक्षा और विकास के लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग की स्थापना को मंजूरी प्रदान की और छोटे किसानों की आय को बढ़ाकर किसानों का समर्थन किया।
ii.यह घोषणा अंतरिम बजट में गायों और उनकी संतानों को बचाने, उनके संरक्षण और विकास के लिए एक नीति बनाने के लिए की गई, जिससे मवेशियों की आबादी में वृद्धि होगी।
iii.यह छोटे किसानों के लिए लाभदायक होगा क्योंकि उनके पशुओं के पशुधन क्षेत्र में वृद्धि होगी।
iv.राष्ट्रीय कामधेनु आयोग गायों के प्रजनन,पालन, जैविक खाद और बॉयोगैस आदि के क्षेत्र में कार्यरत केंद्र और राज्य सरकार के विभागो और संगठनो तथा पशुचिकित्सा, पशु विज्ञान और कृषि विश्वविद्यालयो के साथ मिलकर कार्य करेगा।
सीसीईए ने 12000 मेगावॉट की ग्रिड कनेक्टिड सौर फोटोवॉल्टिक (पीवी) विद्युत परियोजनाओं की स्थापना को मंजूरी दी:
i.प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीईए) ने 8,580 करोड़ रुपये की वायबिलिटी गैप फंडिंग (वीजीएफ) सहायता के साथ 12000 मेगावाट ग्रिड से जुड़े सौर फोटोवोल्टिक विद्युत परियोजनाओं की स्थापना के लिए नई और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के एक प्रस्ताव को मंजूरी दी है।
ii.12000 मेगावॉट या उससे अधिक क्षमता वाली ग्रिड कनेक्टिड सौर विद्युत परियोजनाओँ की स्थापना सरकारी निर्माताओं द्वारा 4 वर्ष की अवधि अर्थात 2019-20 से 2022-23 में सरकारी निर्माता योजना में विनिर्दिष्ट निबंधन एंव शर्तों के अनुरूप की जाएगी।
iii.यह योजना सरकारी निर्माताओं को सौर सेल और मॉड्यूल्स घरेलू विनिर्माताओं से खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने के जरिये ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देने में भी मददगार साबित होगी।
iv.इस परियोजना के निर्माण के चरण में लगभग 60,000 व्यक्तियों और अगले 25 वर्षों के लिए लगभग 18000 व्यक्तियों को रोजगार के अवसर प्रदान करने की उम्मीद है।
सीसीईए ने कोयले और लिग्‍नाइट के अन्‍वेषण की केन्‍द्रीय क्षेत्र की योजना को तीन वर्ष की अवधि के लिए जारी रखने की मंजूरी दी:
i.6 फरवरी 2019 को, आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति ने ‘कोयला और लिग्नाइट की खोज’ की योजना को मंजूरी दी, जिसमें 24,41,500 मीटर की ड्रिलिंग और 3,575 किलोमीटर की सतह के भूभौतिकीय सर्वेक्षण में 1,875 करोड़ रुपये का अपेक्षित खर्च शामिल है।
ii.यह योजना सरकार को देश में उपलब्ध कोयला और लिग्नाइट संसाधनों का अनुमान लगाने में मदद करेगी।
iii.इस योजना का उद्देश्य अतिरिक्त कोयले के संसाधनों को राष्ट्रीय कोयला और लिग्नाइट सूची में लाना है और इस अन्वेषण योजना की 12 वीं योजना से आगे जारी रहने की उम्मीद है।
iv.हमारे देश में कोयला और लिग्नाइट की खोज दो चरणों में की जाती है:- क्षेत्रीय अन्वेषण और विस्तृत ड्रिलिंग।
सीसीईए ने प्रसार भारती की ‘’प्रसारण बुनियादी ढांचा और नेटवर्क विकास’’ योजना को मंजूरी दी:
i.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने प्रसार भारती की ‘’प्रसारण बुनियादी ढांचा और नेटवर्क विकास’’ योजना के सम्‍बन्‍ध में 1054.52 करोड़ रुपये की लागत से सूचना और प्रसारण मंत्रालय के प्रस्‍ताव को मंजूरी दे दी। यह योजना 2017-18 से 2019-20 तक, तीन वर्ष की अवधि की होगी।
ii.योजना के लिए मंजूर 1054.52 करोड़ रुपये में से 435.04 करोड़ रुपये की राशि आकाशवाणी की वर्तमान में चल रही योजनाओं के लिए मंजूर की गई तथा 619.48 करोड़ रुपये की राशि को दूरदर्शन की योजनाओं के लिए मंजूरी दी गई है।
iii.अरुणाचल प्रदेश से दूरदर्शन का अरुण प्रभा चैनल शुरू करने की भी मंजूरी दे दी ताकि पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा किया जा सके।
iv.19 स्‍थानों पर डिजिटल टेरेस्ट्रियल ट्रांसमीटरों (डीटीटी) को स्‍थापित करने और 39 स्‍थानों पर स्‍टूडियो का डिजिटलीकरण करने, 15 स्‍थानों पर डीएसएनजी (डिजिटल सेटलाइट न्‍यूज गैदरिंग) वैनों और 12 स्‍थानों पर अर्थ स्‍टेशनों के आधुनिकीकरण को भी मंजूरी दे दी गई है।।
v.योजना के तहत ऑल इंडिया रेडियो के लिए 127 स्थानों पर एफएम के स्टूडियो के विस्तार को मंजूरी दी गई है।
मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने ग्रामीण कृषि बाज़ारों के उन्नयन एवं विकास के लिये कृषि-बाज़ार अवसंरचना के निर्माण को अनुमति प्रदान की:
i.मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने ग्रामीण कृषि बाज़ारों एवं व्यवस्थित थोक बाज़ारों में कृषि विपणन अवसंरचना के विकास एवं उन्नयन के लिये राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) के साथ मिल कर बनाए जाने वाले कृषि-बाज़ार अवसंरचना कोष (एएमआईएफ) के लिये 2000 करोड़ रुपये की कायिक निधि के सृजन को अपनी अनुमति प्रदान कर दी है ।
ii.कृषि-बाज़ार अवसंरचना कोष (एएमआईएफ) प्रदेशों/ केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों को 585 कृषि उपज विपणन समितियों (एपीएमसी) एवं 10,000 ग्रामीण कृषि बाज़ारों में विपणन की ढांचागत व्यवस्था विकसित करने के लिये उनके प्रस्ताव पर वित्तीय छूट प्राप्त ऋण मुहैया कराएगा।
iii.एएमआईएफ द्वारा राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को सब्सिडी ऋण प्रदान किया जाएगा और नाबार्ड को कृषि सहयोग और किसान कल्याण विभाग द्वारा ब्याज अनुदान प्रदान किया जाएगा।

6 फरवरी, 2019 को दुसरे देशो के साथ कैबिनेट स्वीकृति:Cabinet approvals with Foreign Countries on February, 20196 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने दुसरे देशो के साथ निम्नलिखित समझौते को मंजूरी दी।
मंत्रिमंडल ने भारत और मलेशिया के बीच कंपनी सचिव के क्षेत्र में परस्पकर सहयोग के समझौते को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और मलेशिया के बीच कंपनी सचिव के क्षेत्र में परस्‍पर सहयोग के समझौते पत्र पर हस्‍ताक्षर करने की मंजूरी दी है। यह समझौता ज्ञापन दोनों देशों में अभ्यास करने वाले कंपनी सचिव की स्थिति और प्रतिष्ठा को बढ़ाएगा।
ii.भारत कंपनी सचिव संस्‍थान (आईसीएसआई) और मलेशियन एसोसिएशन ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज़ (एमएसीएस) के बीच समझौते का उद्देश्‍य दोनों देशों के कंपनी सचिवों के अभ्‍यास और सम्‍मान के स्‍तर को बढ़ाना तथा एशिया-प्रशांत क्षेत्र में कंपनी सचिवों के आवागमन की सुविधा प्रदान करना है।
iii.यह सहयोग को मजबूत करेगा और दोनों क्षेत्राधिकार में कंपनी सचिव की स्थिति और प्रतिष्ठा को बढ़ाएगा।
मलेशिया:
♦ राजधानी: कुआलालंपुर
♦ मुद्रा: रिंगित
♦ प्रधानमंत्री: महातिर बिन मोहम्मद
मंत्रिमंडल ने भारत और नामीबिया तथा पनामा के चुनाव प्रबंधन निकायों के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में भारत और इलेक्शन कमीशन ऑफ नामीबिया (ईसीएन) तथा इलेक्शन ट्राईब्यूनल ऑफ पनामा (ईटीपी) के बीच चुनाव प्रबंधन और प्रशासन के क्षेत्र में सहयोग के संबंध में समझौता ज्ञापन के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।
ii.यह समझौता ज्ञापन द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ावा देगा। इसका लक्ष्य इलेक्शन कमीशन ऑफ नामीबिया (ईसीएन) और इलेक्शन ट्राईब्यूनल ऑफ पनामा (ईटीपी) के लिए तकनीकी सहायता/ क्षमता का निर्माण करना है।
iii.इस समझौता ज्ञापन में ऐसे मानक अनुच्छेद/धाराएं शामिल हैं, जो मोटे तौर पर चुनाव प्रबंधन और प्रशासन के क्षेत्र में सहयोग को बढ़ावा देने की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हैं, जिनमें चुनाव प्रक्रिया के संगठनात्मक और तकनीकी विकास के बारे में जानकारी तथा अनुभव का आदान-प्रदान करना, सूचना का आदान-प्रदान करना, संस्थागत सुदृढ़ीकरण करना और क्षमता निर्माण करना, कार्मिकों को प्रशिक्षण देना, नियमित विचार-विमर्श आदि को बढ़ावा देना शामिल है।
नामीबिया:
♦ राजधानी: विंडहोक
♦ मुद्रा: रैंड
पनामा:
♦ राजधानी: पनामा सिटी
♦ मुद्रा: बाल्बोआ
♦ राष्ट्रपति: जुआन कार्लोस वासेला
मंत्रिमंडल ने भारत और नॉर्वे के बीच भारत-नॉर्वे महासागर वार्ता पर समझौते को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और नॉर्वे के बीच भारत-नॉर्वे महासागर वार्ता पर समझौते को अपनी मंजूरी दी है। इस समझौते से महासागरीय अर्थव्‍यवस्‍था के विकास से संबंधित परस्‍पर हित के क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा मिलेगा।
ii.महासागरीय अर्थव्‍यवस्‍था के क्षेत्र में नॉर्वे विश्‍वभर में अग्रणी है। इसके पास मछली-पालन, हाइड्रोकार्बन, अक्षय ऊर्जा, समुद्री संसाधनों के समुचित दोहन और समुद्री परिवहन जैसे क्षेत्रों में अत्‍याधुनिक प्रौद्योगिकी और विशेषज्ञता है।
iii.प्रस्‍तावित समझौते से हाइड्रोकार्बनों और अन्‍य समुद्री संसाधनों के दोहन के साथ ही बंदरगाहों के प्रबंधन और पर्यटन के विकास जैसे क्षेत्रों में सहयोग के लिए अवसर तैयार करने में मदद मिलेगी।
नॉर्वे:
♦ राजधानी: ओस्लो
♦ मुद्रा: क्रोन
♦ राष्ट्रपति: एर्ना सोलबर्ग
कैबिनेट ने चिकित्‍सा की पारंपरिक प्रणालियों और होम्‍योपैथी के क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत और ब्राजील के बीच सहमति पत्र को स्‍वीकृति दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने चिकित्‍सा की पारंपरिक प्रणालियों और होम्‍योपैथी के क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत और ब्राजील के बीच सहमति पत्र (एमओयू) को स्‍वीकृति दी है।
ii.इस एमओयू से चिकित्‍सा की पारंपरिक प्रणालियों के क्षेत्र में भारत और ब्राजील के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ जाएगा। भारत और ब्राजील की साझा सांस्‍कृतिक विरासत को ध्‍यान में रखते हुए यह एमओयू दोनों ही देशों के लिए काफी महत्‍वपूर्ण साबित होगा।
ब्राजील:
♦ राजधानी: ब्रासीलिया
♦ मुद्रा: रियल
♦ राष्ट्रपति: जायर बोल्सनारो
मंत्रिमंडल ने कृषिगत व्‍यवसाय के वातावरण में सुधार के लिए परस्‍पर सहयोग हेतु भारत एवं मालदीव के बीच समझौते को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्रालय और मालदीव गणराज्‍य के मछलीपालन, समुद्री संसाधन एवं कृषि मंत्रालय के बीच समझौते को पूर्व-प्रभाव से अपनी मंजूरी दी है।
ii.भारत के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, मत्स्य मंत्रालय, समुद्री संसाधन और कृषि, मालदीव के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।
iii.इस समझौते के परिणामस्‍वरूप कृषि गणना, कृषिगत कारोबार, समन्वित कृषि प्रणाली, सिंचाई, उन्‍नत बीज, मृदा स्‍वास्‍थ्‍य प्रबंधन, अनुसंधान, स्‍थानीय कृषिगत कारोबारों के क्षमता निर्माण, खाद्य सुरक्षा एवं पोषण के क्षेत्र में उद्यमियों की जानकारी बढ़ाने, जलवायु प्रतिरोधी कृषि प्रणाली विकसित करने, कीटनाशक अवक्षेपों आदि के परीक्षण के लिए सुविधाएं स्‍थापित करने आदि क्षेत्रों में सहयोग के लिए दोनों देशों के बीच परस्‍पर सहयोग बढ़ाने में मदद मिलेगी।
iv.समझौते के तहत सहयोग की योजना तैयार करने, पक्षों द्वारा निर्धारित कार्यों को लागू करने और निर्धारित क्रियाकलापों के कार्यान्‍वयन के बारे में संकेत देने के लिए एक संयुक्‍त कार्य समूह गठित किया जायेगा।
कैबिनेट ने अफ्रीका में विकास संबंधी सहयोग पर भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच एमओयू को स्वीकृति दी:
i.प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने अफ्रीका में विकास संबंधी सहयोग पर भारत और संयुक्‍त अरब अमीरात (यूएई) के बीच सहमति पत्र (एमओयू) को मंजूरी दी है।
ii.इस एमओयू में दोनों देशों के बीच सहयोग की रूपरेखा तय करने का उल्‍लेख किया गया है, ताकि अफ्रीका में विकास साझेदारी परियोजनाओं और कार्यक्रमों को कार्यान्वित किया जा सके।
iii.इस प्रस्‍ताव से भारत और अफ्रीकी देशों के बीच राजनीतिक एवं आर्थिक संबंधों को मजबूत करने में मदद मिलेगी और इसके साथ ही व्‍यापक सामरिक हितों की पूर्ति होगी।
यूएई:
♦ राजधानी: अबू धाबी
♦ मुद्रा: दिरहम
मंत्रिमंडल ने कृषि एवं खाद्य उद्योग के क्षेत्र में सहयोग के लिए भारत और यूक्रेन के बीच समझौते पर हस्‍ताक्षर को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने कृषि एवं खाद्य उद्योग के क्षेत्र मे पांच साल की अवधि के सहयोग के लिए यूक्रेन सरकार और भारत के बीच समझौते पर हस्‍ताक्षर को अपनी मंजूरी दी है।
ii.समझौते में दोनों देशों के प्रतिनिधियों का एक संयुक्त कार्य समूह शामिल है और यह कृषि के विभिन्न क्षेत्रों और खाद्य उद्योग में सहयोग के लिए प्रदान करेगा।
iii.कोई भी पक्ष समझौते को समाप्त करने की अधिसूचना की प्राप्ति की तारीख से 6 महीने के बाद समझौते को समाप्त कर सकता है।
यूक्रेन:
♦ राजधानी: कीव
♦ मुद्रा: रिव्निया
♦ राष्ट्रपति: पेट्रो पोरोशेंको
मंत्रिमंडल ने जैव प्रौद्योगिकी में भारत और फिनलैंड के बीच हुए समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी:
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भारत के जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) और फिनलैंड के जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बीआईआरएसी) के बीच आपसी हित पर आधारित सहयोग के लिए जैव प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में और वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं और उद्योग के बीच ज्ञान साझा करने और ज्ञान सृजन की सुविधा के लिए मंजूरी दे दी।
मंत्रिमंडल ने भारत और उज्‍बेकिस्‍तान के बीच ई-प्रशासन के क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ाने के समझौते को मंजूरी दी:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और उज्‍बेकिस्‍तान के बीच ई-प्रशासन के क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ाने के समझौते को कार्योत्‍तर मंजूरी दी है।
ii.समझौते के उद्देश्‍यों में ई-प्रशासन के क्षेत्र में सहयोग तथा आईटी शिक्षा को बढ़ावा देना, विभिन्‍न क्षेत्रों के ई-प्रशासन उत्‍पादों/उपकरणों की शुरूआत करना तथा इनका कार्यान्‍वयन करना, डेटा केन्‍द्रों का विकास करना आदि शामिल हैं।
कैबिनेट ने भारत और इंडोनेशिया के बीच रूपरेखा समझौते को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए बाह्य अंतरिक्ष के अन्वेषण और उपयोग में सहयोग पर भारत और इंडोनेशिया के बीच रूपरेखा समझौते को पूर्वव्यापी मंजूरी दी है।
ii. यह समझौता इंडोनेशिया में इसरो का टीटीसी केंद्र और आईआरएमएस केंद्र की स्थापना करने में सहायक होगा।
इंडोनेशिया:
♦ राजधानी: जकार्ता
♦ मुद्रा: रुपिया

यूनेस्को ने शाहपीडिया के साथ साझेदारी में इंडिया हेरिटेज वॉक का दूसरा संस्करण आयोजित किया:UNESCO organised Second Edition of the India Heritage Walk in partnership with Sahapediai.यूनेस्को के साथ साझेदारी में शाहपीडिया ने इंडिया हेरिटेज वॉक फेस्टिवल (आईएचडव्लूएफ) 2019 के दूसरे संस्करण का आयोजन किया, यह राष्ट्रीय खनिज विकास निगम द्वारा भी समर्थित है।
ii. आईएचडव्लूएफ ने अपने पहले अखिल भारतीय आयोजन के लिए “विरासत और संस्कृति” श्रेणी में पीएटीए गोल्ड अवार्ड 2018 पेश किया।
iii.यह त्योहार इतिहास से जुड़े छिपे हुए रत्नों की खोज करने का अवसर प्रदान करता है।
हेरिटेज वॉक ऑफ 2019 संस्करण:
i.हेरिटेज वॉक की सूची में दिल्ली एक नया आकर्षण है।
ii.हेरिटेज वॉक ने सांझी को पेश करने की योजना बनाई जो वृंदावन के स्टैंसिल और मुंबई के बांद्रा की गलियों से एक कागज काटने की कला हैं।
iii.पवित्र शहर वाराणसी में भोजन का प्रामाणिक स्वाद, जयपुर के वस्त्र डिजाइन भी है।
iv.विभिन्न हरे-भरे पार्कों में वाक के लिए गार्डन का शहर बैंगलोर भी हैं।

परमाणु टेक 2019 नई दिल्ली में आयोजित हुआ:Parmanu Tech 2019-Nuclear Energy Conference in New Delhiविदेश मंत्रालय और परमाणु ऊर्जा विभाग (डीएई) ने परमाणु ऊर्जा और विकिरण प्रौद्योगिकी से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करने के लिए नई दिल्ली में परमाणु टेक 2019 का आयोजन किया।
सम्मेलन में चर्चा किए गए सेक्टर:
i.स्वास्थ्य देखभाल – चर्चा ‘परमाणु चिकित्सा और विकिरण चिकित्सा – उपचार के लिए देखभाल’ विषय पर आयोजित की गई थी।
ii.भोजन संरक्षण, कृषि और औद्योगिक अनुप्रयोगों – मुद्दों पर चर्चा ‘खेतों से कारखानों तक – राष्ट्रीय कार्य करना’ विषय के साथ की गई थी।
iii.परमाणु ऊर्जा में भारत की क्षमताएं पर चर्चा – ‘पर्यावरणीय जिम्मेदारी के साथ सुरक्षा – आगे की मार्च’ विषय के साथ की गई थी।

रोड एक्सीडेंट को कम करने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा जीरो फैटलिटी कॉरिडोर लॉन्च किया गया:
i.4 फरवरी 2019 को, दिल्ली सरकार ने बरारी और भालसवा चौक के बीच बाहरी रिंग रोड पर सड़क दुर्घटनाओं की संख्या को कम करने के लिए अपनी वार्षिक सड़क सुरक्षा कार्य योजना के तहत जीरो फैटलिटी कॉरिडोर परियोजना शुरू की।
ii.दिल्ली के परिवहन मंत्री, कैलाश गहलोत के अनुसार, दिल्ली में 1691 सड़क दुर्घटनाएं हुईं और इस परियोजना का उद्देश्य बाहरी रिंग रोड पर होने वाली मौतों को शून्य के स्तर तक कम करना है।
iii.एक रिपोर्ट के अनुसार, 3 किमी प्रस्तावित खिंचाव 2016 और 2017 में सड़क दुर्घटनाओं के कारण 67 मौतों का गवाह बना। इस खंड पर दुर्घटनाओं की उच्च संख्या की वैज्ञानिक जांच के बाद, जीरो फैटलिटी कॉरिडोर का शुभारंभ किया गया।
दिल्ली:
♦ उपराज्यपाल: अनिल बैजल
♦ मुख्यमंत्री: अरविंद केजरीवाल

कोल्हापुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के 7 वें संस्करण का उद्घाटन महाराष्ट्र के कोल्हापुर में हुआ:
i.फिल्म फेस्टिवल का 7 वां संस्करण 2019 की 7 फरवरी को कोल्हापुर, महारास्ट्र में शुरू हुआ। यह आठ दिवसीय फेस्टिवल है, जिसमें अभिनेत्री रोहिणी हट्टंगडी उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि हैं।
ii.दिग्गज फिल्म निर्माता गोविंद निहलानी को फिल्म उद्योग में उनके योगदान के लिए कालामहर्षि बाबूराव पेंटर पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
iii.त्योहार का फोकस देश हंगरी सिनेमा है।
iv.समारोह के समापन समारोह में ‘देओल’, ‘बकेट लिस्ट’ और ‘एलिजाबेथ एकादशी’ जैसी मराठी फिल्मों के संपादक अभिजीत देशपांडे को चित्रहारमहर्षि आनंदराव पेंटर पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

भारतीय तटरक्षक और एएआई ने पोर्ट ब्लेयर में समुद्री खोज और बचाव कार्यों के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए:
i.भारतीय तटरक्षक (आईसीजी) और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने अंतर्राष्ट्रीय वैमानिकी समुद्री खोज और बचाव मानकों के अनुरूप वैमानिकी और समुद्री खोज और बचाव (एसएआर) संचालन को समन्वित करने के उद्देश्य से एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।
ii.एमओयू एसएआर संचालन के अवसर पर बचाव समन्वय केंद्र (आरसीसी), कोलकाता और समुद्री बचाव समन्वय केंद्र (एमआरसीसी), पोर्ट ब्लेयर और एएआई की आपसी बातचीत, अंतर-संचालन और वैध प्रक्रियाओं को बढ़ाता है।

INTERNATIONAL AFFAIRS

थाइलैंड ने सियामी फाइटिंग फिश को देश का राष्ट्रीय जलीय जानवर घोषित किया:Thailand names Siamese fighting fish its national aquatic animali.5 फरवरी 2019 को, थाईलैंड ने छोटी आंख वाली, रंगीन पंखों वाली सियामी फाइटिंग फिश को राष्ट्रीय जलीय जानवर घोषित नामित किया हैं।
सियामी फाइटिंग फिश के बारे में:
i.सियामी फाइटिंग फिश थाईलैंड के मेकांग बेसिन की मूल निवासी है और ज्यादातर थाईलैंड में चाओ फ्राया नदी में पाई जाती है।
ii.2013 में सियामी फाइटिंग फिश को अमूर्त सांस्कृतिक विरासत के रूप में पंजीकृत किया गया था।
थाईलैंड:
♦ मुद्रा: थाई बहत
♦ राजधानी: बैंकॉक

मेसिडोनिया ने नाटो सैन्य गठबंधन के नए सदस्य के रूप में शामिल होने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए:The Prime Minister of the Former Yugoslav Republic of Macedonia(1) visits NATOi.6 फरवरी,2019 को, मैसिडोनिया ने नाटो सैन्य गठबंधन के 30 वें सदस्य बनने के लिए नाटो में शामिल होने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए।
ii.ऐतिहासिक समझौते पर मैसेडोनिया के विदेश मंत्री निकोला दिमित्रोव और नाटो महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग के बीच हस्ताक्षर किए गए।
मैसेडोनिया:
♦ राजधानी: स्कोप्जे
♦ मुद्रा: मेसीडोनियन देनार।
सम्बंधित खबर:
♦ मोंटेनेग्रो-नाटो में इसके 29 वें सदस्य के रूप में शामिल हुआ था।

अंतर्राष्ट्रीय आईपी इंडेक्स 2019 में भारत 36 वें स्थान पर:
i.यूएस चैंबर्स ऑफ कॉमर्स ने दुनिया की शीर्ष 50 अर्थव्यवस्थाओं का वार्षिक अंतर्राष्ट्रीय आईपी सूचकांक जारी किया। रैंकिंग के अनुसार, भारत पिछले साल की 44 वीं रैंक की तुलना में 8 पायदान चढ़कर 36 वें स्थान पर पहुंच गया।
ii.इस सूचकांक में अमेरिका सबसे ऊपर है, उसके बाद ब्रिटेन, स्वीडन, फ्रांस और जर्मनी हैं, जबकि वेनेजुएला आखिरी पायदान पर है।
iii.2018 में, भारत की रैंक 50 देशों में 44 वें स्थान पर थी, रैंक में वृद्धि भारत के आईपी पर्यावरण के बेहतर संरेखण के लिए किए गए विभिन्न सुधारों के लिए समर्पित है, और सुधारों में से एक, जापान द्वारा एक पेटेंट अभियोजन राजमार्ग शुरू करने के लिए समझौता था।

BANKING & FINANCE

छठी द्वि-मासिक मौद्रिक नीति भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी की गई:6th Bi-Monthly Monetary Policy Released By Reserve Bank Of India (RBI)i.7 फरवरी 2019 को  आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में छह-सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति की छठी द्वि-मासिक मौद्रिक नीति जारी की गई, आरबीआई के गवर्नर के रूप में कार्यभार संभालने के बाद यह शक्तिकांत दास के लिए पहली द्विमासिक नीति है।
ii.आरबीआई ने नीतिगत दरों में तत्काल प्रभाव से 0.25 आधार अंक घटाए है। नीतिगत दरों में परिवर्तन इस प्रकार है:

पॉलिसी  दरेंछठी द्वि-मासिक मौद्रिक नीति (फरवरी 2019)5 वीं द्वि-मासिक मौद्रिक नीति (दिसंबर 2018)
रेपो दर6.25%6.50%
रिवर्स रेपो दर6.00%6.25%
सीमांत स्थायी सुविधा दर6.50%6.75%
बैंक दर6.50%6.75%
रिजर्व अनुपातछठी  द्वि-मासिक मौद्रिक नीति (फरवरी 2019)5 वीं द्वि-मासिक मौद्रिक नीति (दिसंबर 2018)
नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर )4%4%
वैधानिक तरलता अनुपात (एसएलआर)19.25%19.5%

ii.आरबीआई ने सकल घरेलू उत्पाद में वर्ष 2019-20 के लिए 7.4% की वृद्धि का अनुमान लगाया, जबकि जीडीपी विकास दर एच1 में 7.2-7.4 प्रतिशत और क्यू3 में 7.5 प्रतिशत है।
iii.मुद्रास्फीति दिसंबर में 18 महीने के निचले स्तर 2.2% पर गिर गई थी और इसकी एच1-2019-20 में 3.2-3.4% और क्यू3-2019-20 में 3.9% रहने की उम्मीद है।
भारतीय रिजर्व बैंक :
♦ गवर्नर: शक्तिकांत दास
♦ मुख्यालय: मुंबई

BUSINESS & ECONOMY

भारत एलपीजी का विश्व का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता और आयातक बन गया:India becomes World’s Second Largest Consumer and importer of LPGi.तेल मंत्री, धर्मेंद्र प्रधान के अनुसार, पारंपरिक पाक कला ईंधन और गोबर जैसे पारंपरिक खाना पकाने के ईंधन की जगह स्वच्छ ईंधन की बढ़ती मांग के कारण भारत चीन के बाद तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) का दूसरा सबसे बड़ा आयातक बन गया है।
ii.भारत ने जापान को पीछे छोड़ दिया क्योंकि एलपीजी का आयात पिछले 5 वर्षों में 12.5% ​​बढ़कर 12 मिलियन मीट्रिक टन हो गया।
iii.2014 से 2025 तक एलपीजी की मांग 34% बढ़ने की उम्मीद है।
iv.भारत में, एलपीजी मुख्य रूप से कतर, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, कुवैत और ईरान से आयात की जाती है।

AWARDS & RECOGNITIONS

फ्रांस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से 92 वर्षीय बंगाल के फादर फ्रैंकोइस लाबॉर्ड को सम्मानित किया गया:
i.6 फरवरी,2019 को, भारत में फ्रांसीसी राजदूत, अलेक्जेंड्रे ज़िगलर द्वारा फादर फ्रैंकोइस लेबोर्ड, एक 92 वर्षीय पुजारी, को फ्रांस के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार लीजन डी’होनूर से सम्मानित किया गया, जो हावड़ा में विशेष रूप से विकलांग बच्चों के लिए उनके काम के लिए दिया गया हैं।
ii.फादर फ्रैंकोइस लाबर्डे, फ्रांसीसी मूल के भारतीय नागरिकता के साथ, फिल्म कलाकार सत्यजीत रे और अभिनेता सौमित्र चटर्जी के बाद लीजन ऑफ ऑनर के हकदार होने वाले राज्य के तीसरे व्यक्ति माने जाते हैं।

SCIENCE & TECHNOLOGY

चेन्नई पुलिस कमिश्नर ने ‘डिजीकॉप’ मोबाइल ऐप लॉन्च किया:Chennai Police Commissioner launches mobile app Digicopi.6 फरवरी,2019 को, चेन्नई के पुलिस आयुक्त ए.के. विश्वनाथन ने चेन्नई में आयुक्त कार्यालय में शहर के पुलिस विभाग का मोबाइल ऐप ‘डिजीकॉप’ लॉन्च किया।
एप्लिकेशन के उपयोग निम्नलिखित हैं:
i.अब तक के इस ऐप में 18,000 चुराए गए मोबाइल फोन हैं।
ii.इस ऐप का उपयोग करते हुए, उपयोगकर्ता मोबाइल चोरी की शिकायतों को दर्ज कर सकता है और यह भी जांच सकता है कि उपयोगकर्ता का मोबाइल पुनर्प्राप्त मोबाइल की पुलिस सूची में है या नहीं। यदि कोई व्यक्ति दुकान से फोन खरीद रहा है तो वे सत्यापित कर सकते हैं कि फोन चोरी का हैं या ख़रीदा हुआ हैं।
iii.इस ऐप का उपयोग करते हुए, उपयोगकर्ता उनके चोरी किए गए दोपहिया वाहन का पुलिस द्वारा पता लगा सकते है।

ENVIRONMENT

नासा और एनओएए रिपोर्ट ने अपनी रिपोर्ट में बताया की वर्ष 2018 चौथा सबसे गर्म वर्ष था:
i.6 फरवरी 2019 को, नासा और एनओएए ने वर्ष 2018 के लिए वैश्विक जलवायु परिवर्तन के विश्लेषण पर अपनी रिपोर्ट जारी की, और 2018 को चौथे सबसे गर्म वर्ष के रूप में बताया।
ii.यह भविष्यवाणी की जाती है कि इस सदी में 5-9 डिग्री सेल्सियस तापमान बढ़ रहा है।

SPORTS

विदर्भ ने लगातार दूसरे रणजी खिताब को जीतने के लिए सौराष्ट्र को हराया:Vidarbha claimed Second Successive Ranji Title beating Saurashtrai.7 फरवरी 2019 को, चैंपियन विदर्भ ने सौराष्ट्र को हराकर रणजी ट्रॉफी 2018-19 जीती, जो कि रणजी ट्रॉफी का 85 वां सीजन है।
ii.यह जीत उनकी लगातार जीत है क्योंकि पिछले साल उन्होंने ट्रॉफी जीती थी।
iii.रणजी ट्रॉफी नवंबर, 2018 से 7 फरवरी 2019 तक खेली जाती है, जिसमें 37 टीमों ने भाग लिया। विदर्भ ने 5 करोड़ रुपये जीते।
ii.सीरीज में सबसे ज्यादा रन मिलिंद कुमार ने बनाए हैं। उन्होंने 1,331 रन बनाए। वह सिक्किम की टीम से है।
iii.आशुतोष अमन ने सीरीज में सर्वाधिक विकेट लिए। उन्होंने 68 विकेट लिए। वह बिहार की टीम से हैं।

फीफा की ताजा रैंकिंग में भारत 103 वें स्थान पर खिसक गया:
i.6 फरवरी,2019 को, संयुक्त अरब अमीरात में एएफसी एशियाई कप के अंत के साथ, विश्व रैंकिंग सूची में कुछ बदलाव हुए, जिसमें भारत शीर्ष 100 रैंक से बाहर हो गया, लेकिन बेल्जियम की स्थिति पहले स्थान पर बनी रही।
ii.रैंक सूची में परिवर्तन निम्नलिखित हैं:
भारत -103
कतर – 55
जापान -27
कोरिया गणराज्य -38
यूएई – 67
जॉर्डन – 97
इराक -80
ईरान -22
उजबेकिस्तान – 89

Comments