Current Affairs Hindi – March 8 2019

हैलो दोस्तों, www.affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 8 मार्च ,2019  के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं।  हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – 7 March 2019Current Affairs March 8 2019

INDIAN AFFAIRS

7 मार्च 2019 को कैबिनेट की मंजूरी:Cabinet approves on March 7, 20197 मार्च 2019 को, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विभिन्न प्रस्तावों पर निर्णय लिया। कैबिनेट की मंजूरी का विवरण इस प्रकार है:
कैबिनेट ने एम्बेडेड करों में छूट के लिए योजना को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कपड़ा क्षेत्र का समर्थन करने और इसे और अधिक प्रतिस्पर्धी बनाने के लिए सभी राज्य और केंद्रीय एम्बेडेड करों में छूट की योजना को मंजूरी दी।
ii.यह सरकार को परिधानों के निर्यात और जीरो रेटेड रेट के निर्यात के विभिन्न उपायों के लिए सक्षम बनाएगा। यह कपड़ा और परिधान क्षेत्र के समान और समावेशी विकास को भी सुनिश्चित करेगा।
कैबिनेट ने एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के भूमि सौंपने के प्रस्ताव को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भोपाल के गांधी नगर स्थित  भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) की अतिक्रमण की गई 106.76 एकड़ भूमि को मध्य प्रदेश सरकार को सौंपने के लिये एएआई के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी है।
ii.राज्य सरकार ने बदले में 96.56 एकड़ जमीन सौंप दी है, जो भोपाल हवाई अड्डे के लिए मौजूदा भूमि से सटी हुई है और शेष को जल्द ही सौंपा जाएगा।
कैबिनेट ने प्रतिभूति अपीलीय पंचाट (एसएटी), मुंबई में तकनीकी सदस्य के पद के प्रस्ताव को मंजूरी दी:
कैबिनेट ने प्रतिभूति अपीलीय पंचाट (एसएटी), मुंबई में तकनीकी सदस्य के पद के प्रस्ताव को मंजूरी दी है जो अपील के शीघ्र निपटान के लिए एसएटी में एक अतिरिक्त पीठ के निर्माण की सुविधा प्रदान करेगा।
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने परिवर्तनकारी गतिशीलता और बैटरी स्टोरेज पर राष्ट्रीय मिशन को मंजूरी दी:
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने परिवर्तनकारी गतिशीलता और बैटरी स्टोरेज पर राष्ट्रीय मिशन को मंजूरी दी जो इलेक्ट्रिक वाहनों, बैटरी और उनके घटकों के लिए परिवर्तनकारी गतिशीलता और चरणबद्ध विनिर्माण कार्यक्रमों (पीएमपी) के लिए रणनीतियों को अंतिम रूप देगा और लागू करेगा।
कैबिनेट ने शिक्षक कैडर अध्यादेश, 2019 में आरक्षण के प्रस्ताव को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विश्वविद्यालय/कॉलेज को एक विभाग/विषय के बजाय एक इकाई मानते हुए केंद्रीय शैक्षिक संस्थान (शिक्षक के कैडर में आरक्षण)  अध्यादेश, 2019 की घोषणा के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दी है।
ii.यह योग्य प्रतिभाशाली उम्मीदवारों को आकर्षित करेगा और शिक्षण मानकों में सुधार करेगा।
कैबिनेट ने अधिकारियों तथा समय पूर्व सेवानिवृत्त होने वाले सैनिकों को ईसीएचएस की सुविधा प्रदान करने की मंजूरी दी:
i.केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने द्वितीय विश्व युद्ध के पूर्व सैनिकों, इमरजेन्सी कमीशन्ड अधिकारियों, शॉर्ट सर्विस कमीशन्ड अधिकारियों तथा समय पूर्व सेवानिवृत्त होने वाले सैनिकों को पूर्व सैनिक अंशदायी स्वास्थ्य योजना (ईसीएचएस) के तहत चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने को मंजूरी दे दी।
ii.उन्हें ईसीएचएस सुविधाओं के तहत कैशलेस चिकित्सा उपचार का लाभ मिलेगा।
कैबिनेट ने पूरे देश में बाढ़ प्रबंधन कार्यों के लिए ‘एफएमबीएपी’ को मंजूरी दी:
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पूरे देश में बाढ़ प्रबंधन कार्यों और वर्ष 2017-18 से 2019-20 के दौरान सीमावर्ती क्षेत्रों से संबंधित नदी प्रबंधन गतिविधियों और कार्यों के लिए बाढ़ प्रबंधन और सीमा क्षेत्र कार्यक्रम (एफएमबीएपी) को मंजूरी दी है। इसका परिव्यय 3342.00 करोड़ रुपये है।
कैबिनेट ने राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम IV को जारी रखने की मंजूरी दी:
कैबिनेट ने राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम-IV (एनएसीपी- IV) को 12वीं पंचवर्षीय योजना के बाद अप्रैल, 2017 से मार्च, 2020 तक तीन साल की अवधि के लिए जारी रखने को मंजूरी दी गई। इसका कुल परिव्यय 6434.76 करोड़ रुपये होगा।
दक्षिण पूर्वी रेलवे पर नारायणगढ़ और भद्रक के बीच तीसरी रेलवे लाइन को कैबिनेट ने मंजूरी दी:
कैबिनेट ने पश्चिम बंगाल में नारायणगढ़ और ओडिशा में भद्रक (दक्षिण पूर्वी रेलवे) के बीच एक तीसरी रेलवे लाइन के निर्माण की स्वीकृति दी, जिसकी कुल लागत 1866.31 करोड़ रुपये है। निर्माण वर्ष 2023-24 के दौरान पूरा किया जाएगा।
यूपी में 1320 मेगावाट खुर्जा सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट के कार्यान्वयन को मंत्रिमंडलों की मंजूरी मिली:
कैबिनेट ने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में 2X660 मेगावाट खुर्जा सुपर थर्मल पावर प्लांट में 11089.42 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत के निवेश को मंजूरी दी।
बिहार में 1320 मेगावाट के बक्सर थर्मल पावर प्रोजेक्ट के लिए निवेश को कैबिनेट की मंजूरी मिल गई:
कैबिनेट ने बक्सर बिहार में 2X660 मेगावाट बक्सर थर्मल पावर प्रोजेक्ट के लिए निवेश की मंजूरी दी, जिसकी अनुमानित लागत 10439.09 करोड़ रूपए है। यह परियोजना एसजेवीएन थर्मल प्राइवेट लिमिटेड द्वारा कार्यान्वित की जाएगी।
सिक्किम में तीस्ता स्टेज-VI एचई प्रोजेक्ट को कैबिनेट की मंजूरी मिली:
कैबिनेट ने मेसर्स लैंको तीस्ता हाइड्रो पावर लिमिटेड के अधिग्रहण और सिक्किम में एनएचपीसी द्वारा तीस्ता स्टेज- VI एचई परियोजना के शेष कार्य के निष्पादन के लिए निवेश की मंजूरी दी। परियोजना के लिए अनुमानित लागत 5748.04 करोड़ रुपये है।
जम्मू-कश्मीर में किरू हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट को कैबिनेट की मंजूरी मिली:
मंत्रिमंडल ने जम्मू-कश्मीर में मेसर्स चिनाब वैली पावर प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड (मेसर्स सीवीपीपीएल) द्वारा 4287.59 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत के साथ किरू हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट (624 मेगावाट) के निर्माण में निवेश को मंजूरी दी।
कैबिनेट ने स्ट्रेस्ड पावर प्लांट्स पर जीओएम की सिफारिशों को मंजूरी दी:
मंत्रिमंडल ने अल्पकालिक विद्युत खरीद समझौतों (पीपीए) के लिए कोयला लिंकेज सहित तनावग्रस्त विद्युत परियोजनाओं से संबंधित मंत्रियों के समूह (जीओएम) द्वारा की गई सिफारिशों को मंजूरी दे दी।
कैबिनेट ने चीनी मिलों को 2790 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता को मंजूरी दी:
मंत्रिमंडल ने चीनी मिलों को बैंक द्वारा 1,2900 करोड़ रुपये की ऋण राशि के लिए ब्याज अदायगी के लिए 270 करोड़ रुपये की धनराशि की स्वीकृति दी है। इसका उद्देश्य इथेनॉल उत्पादन क्षमता में वृद्धि करना है।
कैबिनेट ने ‘बगैर उपयोग’ एवं ‘कम उपयोग’  वाली हवाई पट्टियों का पुनरुद्धार करने के लिए 4500 करोड़ रुपये की मंजूरी दी:
क्षेत्रीय हवाई संपर्क बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के लिए, मंत्रिमंडल ने देश भर में ‘बगैर उपयोग’ एवं ‘कम उपयोग’ वाली हवाई पट्टियों का पुनरुद्धार करने और विकसित करने के लिए 4500 करोड़ रूपये को मंजूरी दी।

7 मार्च, 2019 को दुसरे देशों के साथ कैबिनेट की मंजूरी:Cabinet Approval with Foreign Countries on March 7, 20197 मार्च 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए और कई समझौता ज्ञापनों को स्वीकृति प्रदान की।
भारत और ब्रिटेन के बीच कैंसर शोध पहल पर समझौता हुआ:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 14 नवंबर 2018 को हस्ताक्षर किए गए कैंसर शोध पहल पर भारत और ब्रिटेन के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी।
ii.मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:
-यह शोध चुनौतियों का एक मुख्य समूह की पहचान करेगा जो नैदानिक शोध, जनसांख्यिकीय शोध, नई प्रौद्योगिकियों और भौतिक विज्ञानों में अग्रणी भारतीय और यूके विशेषज्ञों को एक साथ लाकर कैंसर की सामर्थ्य, रोकथाम और देखभाल के मुद्दों को संबोधित करता है।
-यह पहल नए अनुसंधान गठबंधनों को विकसित करने और कैंसर के परिणामों के खिलाफ महत्वपूर्ण प्रगति को सक्षम करने के लिए प्रभावशाली शोध करने के लिए वित्त पोषण प्रदान करेगी।
-5 वर्षों की अवधि में, पहल के लिए कुल शोध निधि £ 10 मिलियन (लगभग 90 करोड़ रूपये) होगी, जिसमें कैंसर अनुसंधान यूके (सीआरयुके) £ 5 मिलियन (लगभग 45 करोड़ रुपये) का वित्तपोषण करेगा और भारत का जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) शेष £ 5 मिलियन का वित्तपोषण करेगा।
ब्रिटेन:
♦ राजधानी: लंदन
♦ मुद्रा: पाउंड स्टर्लिंग
♦ प्रधानमंत्री: थेरेसा मे
भारत और जर्मनी के बीच व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में सहयोग पर समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य (ओंएसएच) के क्षेत्र में सहयोग पर भारत और जर्मनी के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी जिसे 13 नवंबर 2018 को नवीनीकृत किया गया था।
ii.मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:
-समझौता ज्ञापन से दोनों देशों के बीच विभिन्न आर्थिक गतिविधियों में व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में नई प्रशिक्षण तकनीक अपनाने और जोखिमों से निपटने में काफी मदद मिली है।
-समझौता ज्ञापन के तहत निर्माण और विनिर्माण क्षेत्र में व्यावसायिक और स्वास्थ्य से जुड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा संघ के माध्यम से जर्मनी की सामाजिक दुर्घटना बीमा के जरिए काफी मदद मिल रही है।
-यह सुरक्षा और स्वास्थ्य में सुधार और व्यावसायिक चोटों और बीमारियों को रोक कर बड़ी कार्य बल को लाभान्वित करेगा।
-इस समझौते से श्रम मंत्रालय के तकनीकी विभाग – कारखाना सलाह सेवा और श्रम संस्थान महानिदेशालय के कौशल विकास और व्या वसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में मुख्य निरीक्षक कारखाना अधिकारी की सेवाओं को और बेहतर बनाया जा सकेगा।
-इससे भारतीय श्रम बल के लिए उभरती हुई चुनौतियों से निपटने के लिए ओएसएच के क्षेत्र में अनुसंधान के लिए प्रयोगशालाओं का उन्नयन और सुरक्षा के मामले में ओएसएच के मानकों का विकास सुनिश्चित हो सकेगा।
जर्मनी:
♦ राजधानी: बर्लिन
♦ मुद्रा: यूरो
♦ चांसलर: एंजेला मर्केल
रोड इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में प्रौद्योगिकी सहयोग पर भारत और ऑस्ट्रिया के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर हुए:
i.केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने सड़क आधारभूत संरचना के क्षेत्र में तकनीकी सहयोग के लिए भारत सरकार के केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय तथा ऑस्ट्रिया के परिवहन, नवाचार और तकनीकी मंत्रालय के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर को मंजूरी दे दी है।
ii.मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:
-इसका उद्देश्य दोनों देशों के बीच सड़क परिवहन, सड़क/राजमार्ग बुनियादी ढांचे के विकास, प्रबंधन और प्रशासन, सड़क सुरक्षा और बुद्धिमान परिवहन प्रणालियों के क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग के लिए एक प्रभावी ढांचा तैयार करना है।
-इसका उद्देश्य संबंधों को मजबूत करना, लंबे समय तक द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देना और भारत गणराज्य और ऑस्ट्रिया गणराज्य के बीच व्यापार और क्षेत्रीय एकीकरण को बढ़ाना है।
-1949 में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों की स्थापना के बाद से भारत के ऑस्ट्रिया के साथ अच्छे राजनयिक संबंध थे।
-ऑस्ट्रिया में सड़कों और राजमार्गों के लिए अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियां हैं, जिनमें इलेक्ट्रॉनिक टोल सिस्टम, बुद्धिमान परिवहन प्रणाली, यातायात प्रबंधन प्रणाली, सुरंग निगरानी प्रणाली, भू-मानचित्रण और भूस्खलन से सुरक्षा के उपाय शामिल हैं।
ऑस्ट्रिया:
♦ राजधानी: वियना
♦ मुद्रा: यूरो
♦ राष्ट्रपति: अलेक्जेंडर वान डेर बेलन
♦ चांसलर: सेबेस्टियन कुर्ज़
दीवानी और वाणिज्यिक मामलों में परस्पर कानूनी मदद(एमएलएटी) के लिए भारत और बेलारूस के बीच समझौता हुआ:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने दीवानी और वाणिज्यिक मामलों में परस्पर कानूनी मदद (एमएलएटी) के लिए भारत और बेलारूस के बीच समझौते को मंजूरी दे दी है।।
ii.मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:
-समझौते से दोनों पक्षों के बीच दीवानी और वाणिज्यिक मामलों में परस्‍पर कानूनी मदद को बढ़ावा मिलेगा।
-इसका मकसद दीवानी और वाणिज्यिक मामलों में कानूनी सलाह का अनुरोध करने वाले पक्षों के नागरिकों को लिंग, समुदाय और आय के मामलें में बिना भेदभाव किए लाभ पहुंचाना है।
बेलारूस:
♦ राजधानी: मिन्स्क
♦ मुद्रा: बेलारूसी रूबल
♦ राष्ट्रपति: अलेक्जेंडर लुकाशेंको
कैबिनेट ने भारत और भूटान के बीच समझौते के अनुच्छेद 3 में संशोधन को मंजूरी दी:
i.केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मांग्डेछू हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट (एमएचईपी) के संबंध में ऋण पुनर्भुगतान की अवधि दो वर्ष बढ़ाने के लिए भारत और भूटान के बीच अनुबंध के अनुच्छेद 3 में संशोधन करने की मंजूरी दी है। ऐसा भूटान में इस परियोजना का कार्यान्वयन 15 वर्ष से बढ़ाकर 17 वर्ष करने के लिए किया जा रहा है।
ii.प्रस्ताव का उद्देश्य निम्नलिखित को सुरक्षित करना है:
-भूटान में 720 मेगावाट एमएचईपी से विद्युत आयात के लिए पहले साल की दर सूची 4.12 भारतीय रुपया प्रति यूनिट।
-एमएचईपी से भूटान द्वारा भारत को अधिशेष विद्युत की निश्चित रूप से आपूर्ति।
-भारत-भूटान आर्थिक संबंधों और विशेष रूप से पन-विद्युत सहयोग के क्षेत्र में परस्पर संबंधों और समग्र रूप से भारत-भूटान संबंधों को अधिक मजबूत बनाना।
भूटान:
♦ राजधानी: थिम्पू
♦ मुद्रा: न्गुल्ट्रम
♦ प्रधानमंत्री: लोटे त्सरिंग
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्रीय लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) और मंगोलिया की नागरिक सेवा परिषद (सीएससीएम) के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) को मंजूरी दी:
i.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्रीय लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) और मंगोलिया की नागरिक सेवा परिषद (सीएससीएम) के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) को मंजूरी दी, जिसका उद्देश्य उनके बीच मौजूदा संबंध को मजबूत करना है।
ii.यह भर्ती के क्षेत्र में दोनों पक्षों के अनुभव और विशेषज्ञता को साझा करने की सुविधा प्रदान करेगा।
यूपीएससी:
♦ चेयरमैन: अरविंद सक्सेना
♦ मुख्यालय : नई दिल्ली
मंगोलिया:
♦ राजधानी: उलानबातर
♦ मुद्रा: मंगोलियाई तोग्रोग
♦ राष्ट्रपति: खालतमागिन बटुलगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तमिलनाडु और कर्नाटक की यात्रा का अवलोकन:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक के कालाबुरागी और तमिलनाडु के कांचीपुरम का दौरा किया, जहां उन्होंने विभिन्न विकास परियोजनाओं का शुभारंभ किया।
पीएम मोदी की कर्नाटक यात्रा की मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:
i.प्रधानमंत्री ने पट्टिका के अनावरण के माध्यम से कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) अस्पताल और मेडिकल कॉलेज, बेंगलुरु को राष्ट्र को समर्पित किया।
ii.उन्होंने हुबली में कर्नाटक इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (केआईएमएस) के सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक, बैंगलोर में इनकम टैक्स अपीलेट ट्रिब्यूनल बिल्डिंग का उद्घाटन किया और बंगलौर विश्वविद्यालय में उत्तर पूर्वी क्षेत्र की छात्रों के लिए महिला छात्रावास का बटन दबाकर उद्घाटन किया।
iii.बीपीसीएल डिपो रायचूर से कलाबुरागी के पुनर्स्थापन के लिए नींव का पत्थर भी प्रधानमंत्री द्वारा पट्टिका के अनावरण के माध्यम से रखा गया।
iv.उन्होंने प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना: आयुष्मान भारत के लाभार्थियों के साथ बातचीत की।
पीएम मोदी की तमिलनाडु यात्रा की मुख्य विशेषताएं:Dedicated the 5 MMTPA capacity Ennore LNG Terminal to the nation.-पीएम मोदी ने विक्रांडी से तंजावुर तक एनएच-45 सी की चार लेन और एनएच-4 के छह लेन- करिपेट्टई – वलाजापेट खंड के शिलान्यास सहित विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं की शुरुआत की।
-उन्होंने 5 एमएमटीपीए क्षमता के एन्नोर एलएनजी टर्मिनल को राष्ट्र को समर्पित किया। तरलीकृत प्राकृतिक गैस (एलएनजी) टर्मिनल तमिलनाडु और पड़ोसी राज्यों में एलएनजी की मांग को पूरा करने में मदद करेगा।
-उन्होंने इरोड-करूर-तिरुचिरापल्ली और सलेम-करूर-डिंडीगुल रेलवे लाइनों के विद्युतीकरण को भी राष्ट्र को समर्पित किया।
-उन्होंने घोषणा की कि चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एमजी रामचंद्रन के नाम पर रखा जाएगा।
-उन्होंने वीडियो लिंक के जरिए डॉ.एमजीआर जानकी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस फॉर वुमन, चेन्नई में डॉ.एमजी रामचंद्रन की प्रतिमा का भी अनावरण किया।
कर्नाटक:
♦ राजधानी: बेंगलुरु
♦ मुख्यमंत्री: एच डी कुमारस्वामी
♦ राज्यपाल: वजुभाई वाला
तमिलनाडु:
♦ राजधानी: चेन्नई
♦ मुख्यमंत्री: एडप्पादी के पलानीस्वामी
♦ राज्यपाल: बनवारीलाल पुरोहित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दृष्टिबाधित मैत्रीपूर्ण श्रृंखला के रु 1, रु 2,रु 5,रु 10,रु 20 सिक्कों का अनावरण किया:Rs 20 coins unveiled by PM Modii.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह में 1 रुपये, 2 रुपये, 5 रुपये, 10 रुपये और 20 रुपये के मूल्यवर्ग में दृष्टिबाधित मैत्रीपूर्ण सिक्कों की नई श्रृंखला का अनावरण किया, जिसमें दृष्टिहीन बच्चों को विशेष रूप से आमंत्रित किया गया।
ii.सभी नई श्रृंखला के सिक्के भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) के माध्यम से आरबीआई अधिनियम के अनुसार ही प्रचलन के लिए जारी किए जाएंगे। नई श्रृंखला के सिक्के जारी करने की सही तारीख की घोषणा होना बाकी है।
भारत के पहले 20 रुपये के सिक्के की विशेषताएं:
i.नया 20 रुपये का सिक्का जारी सिक्कों की श्रृंखला की तुलना में गोलाकार नहीं है। नया 20 रुपये का सिक्का देश के कृषि प्रभुत्व को दर्शाते हुए अनाज के डिजाइन के साथ 12 किनारों के बहुभुज आकार में है।
ii.नए 20 रुपये के सिक्के का बाहरी रिंग निकल चांदी से बना है और केंद्रीय टुकड़ा निकल पीतल से बना है। नए 20 रुपये के सिक्के का बाहरी व्यास 2.7 सेंटीमीटर है और नए 20 रुपये के सिक्के का वजन लगभग 8.54 ग्राम है।
iii.’अशोक स्तंभ के शेर’ को नीचे अंकित ‘सत्यमेव जयते’ के साथ नए 20 रुपये के सिक्के के पर अंकित किया गया है, जबकि 20 का मूल्यवर्ग मूल्य अंतरराष्ट्रीय मूल्य के साथ-साथ भारतीय रुपये के चिन्ह के साथ दूसरी साइड पर अंकित है।
iv.हिंदी में ‘भारत’ और अंग्रेजी में ‘इंडिया’ को 20 रुपये के नए सिक्के के पर बाईं और दाईं परिधि पर लगाया गया है और अंतरराष्ट्रीय अंकों को नए 20 रुपये के सिक्के के बाएं परिधि के केंद्र में अंकित किया गया है।
v.सिक्के राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान द्वारा डिजाइन किए गए हैं और मुंबई, अलीपुर (कोलकाता), सैफाबाद (हैदराबाद), चेरलापल्ली (हैदराबाद) और नोएडा (यू.पी.) में राज्य के स्वामित्व वाली टकसालों पर बनाए गए हैं।

भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण ने आयुष्मान भारत योजना में धोखाधड़ी को रोकने के लिए दिनेश अरोड़ा की अध्यक्षता में एक कार्यकारी समूह बनाया:IRDAI, NHA form a working group chaired by Dinesh Arora to curb fraud in Ayushman Bharat schemei.भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अधिक प्रभावी क्रियान्वयन के तरीके सुझाने के लिए एक संयुक्त कार्यदल (जेडब्ल्यूजी) का गठन किया है।
ii.समूह में 11 सदस्य शामिल होंगे।
iii.इसकी अध्यक्षता एनएचए के डिप्टी सीईओ दिनेश अरोड़ा करेंगे और आईआरडीएआई के कार्यकारी निदेशक सुरेश माथुर सह-अध्यक्ष होंगे।
iv.समूह योजना के तहत अस्पतालों के प्रबंधन, डेटा प्रबंधन और विनिमय, दावों के लिए आईटी बुनियादी ढांचे के विकास पर एक रिपोर्ट तैयार करेगा।
v.इंश्योरेंस/सरकारी योजनाओं के तहत साम्राज्यिक अस्पतालों के राष्ट्रीय भंडार पर गुणवत्ता और पैकेज दरों और कोड के लिए परिभाषित मानकों के साथ एक रिपोर्ट जमा करने के लिए 12 महीने का समय दिया जाएगा।
vi.डेटा मानकीकरण और विनिमय पर एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए समूह को 3 महीने का समय मिलेगा।
vii.6 महीने में एक सामान्य भंडार के निर्माण और क्षमता-निर्माण के माध्यम से धोखाधड़ी का पता लगाने और बचने के लिए सिफारिशें देनी होंगी।

व्यावसायिक सुरक्षा के लिए श्रम मंत्रालय और सिम्तार्स ऑस्ट्रेलिया के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए:MoU was signed between Labour Ministry and SIMTARS, Australiai.7 मार्च 2019 को, खान सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस) ने व्यावसायिक सुरक्षा में सहयोग के लिए सुरक्षा में खान, परीक्षण और अनुसंधान स्टेशन (सिम्तार्स), ऑस्ट्रेलिया के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।
ii.श्रम और रोजगार मंत्रालय की ओर से श्री उत्पल सिंह और सिम्तार्स, ऑस्ट्रेलिया की ओर से श्री गीतेश अग्रवाल के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।
iii.एमओयू का उद्देश्य खनन कार्यों में लगे व्यक्तियों की व्यावसायिक सुरक्षा, स्वास्थ्य और कल्याण के क्षेत्र में नए अवसरों की खोज करना था।
iv.आजकल खनिजों की उपलब्धता मुश्किल हो गई है और खनिकों को गहराई तक जाना होता है, जिसके कारण श्रमिकों की सुरक्षा के लिए नई तकनीकों की आवश्यकता है।

फ्रांसीसी अंतरिक्ष एजेंसी सीएनईएस और इसरो ने समुद्री निगरानी समझौते पर हस्ताक्षर किए:i.फ्रांसीसी अंतरिक्ष एजेंसी सीएनईएस (अंतरिक्ष अध्ययन के लिए राष्ट्रीय केंद्र) के अध्यक्ष जीन-यवेस ले गैल और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के सिवन ने फ्रांसीसी-भारतीय कार्यक्रम के लिए एक अंतरिक्ष आधारित समुद्री निगरानी प्रणाली विकसित करने के लिए अल्पकालिक योजना को लागू करने के लिए बेंगलुरु में एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।
ii.सीएनईएस-इसरो समझौता, जिसका उद्देश्य हिंद महासागर में जहाजों का पता लगाने, पहचानने और उन्हें ट्रैक करने के लिए एक संचालन प्रणाली की आपूर्ति करना है, मई 2019 में भारत में एक समुद्री निगरानी केंद्र स्थापित करने का प्रावधान प्रदान करता है।
फ्रांस:
♦ राजधानी: फ्रांस
♦ मुद्रा: यूरो
♦ राष्ट्रपति: इमैनुएल मैक्रॉन
इसरो:
♦ अध्यक्ष: के सिवन
♦ मुख्यालय: बेंगलुरु

ममता बनर्जी ने युवा उद्यमियों की आर्थिक मदद के लिए युवाश्री अर्पण योजना शुरू की:Mamata Banerjee launched Yuvashree Arpan schemei.पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने युवाश्री योजना II या युवाश्री अर्पण नामक एक नई योजना शुरू की, जिसके तहत 50,000 युवाओं को अपनी स्वयं की व्यावसायिक पहल स्थापित करने के लिए 1 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त होगी।
ii.औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) या अन्य पॉलिटेक्निक संस्थान से पास होने वाले युवा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) विभाग से वित्तीय सहायता प्राप्त करने के पात्र होंगे।
iii.मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर पश्चिम बंगाल में अरुपारा, हावड़ा जिले में पहले हिंदी विश्वविद्यालय और पुरवा मेदिनीपुर में 1,488 करोड़ रुपये की पेयजल परियोजना सहित विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं का शिलान्यास किया, जिससे 12 लाख से अधिक लोग लाभान्वित होंगे।
iv.पेयजल परियोजना, जो 8 लाख से अधिक लोगों को लाभान्वित करेंगी, सहित 1,071 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास बांकुरा में किया गया।
v.उन्होंने घोषणा की कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग का कार्यालय नबना के पास तीन एकड़ भूमि पर स्थापित किया जाएगा।
vi.उन्होंने कार्यक्रम में 1,300 करोड़ रुपये से अधिक की लगभग 217 परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया।

BANKING & FINANCE

क्रेडिट फर्म सीआरआईएफ हाईमार्क ने क्रेडिटविद्या-डाटा एनालिटिक्स फर्म के साथ नए उधारकर्ताओं के लिए सहयोग किया:
i.एक क्रेडिट फर्म सीआरआईएफ हाईमार्क ने क्रेडिटविद्या-डाटा एनालिटिक्स फर्म के साथ सहयोग किया है, जिससे उधारदाताओं को नए उधारकर्ताओं या जो लोग वंचित हैं, को ऋण प्रदान करने में सक्षम बनाया जा सके।
ii.सहयोग-इकाई का लक्ष्य है कि क्रेडिट रिपोर्ट तैयार करने के लिए अन्य डिजिटल स्रोतों से अतिरिक्त डेटा के साथ ग्राहक के पिछले डेटा को संयोजित किया जाए, जिसके आधार पर ऋणदाता यह तय कर सकें कि किसको उधार देना है।
iii पूरे भारतीय उधारी खंड में फैले सीआरआईएफ हाईमार्क का 1.6 बिलियन रिकॉर्ड हैं। क्रेडिटविद्या द्वारा पहली बार उधार लेने वाले सेगमेंट का अनुमान लगभग 350 मिलियन है।

यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और एचडीएफसी लाइफ के बीच बैंकक्योरेंस डील साइन की गई:United Bank of India_ HDFC Lifei.यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया ने एचडीएफसी लाइफ के साथ एक बैंकक्योरेंस डील पर हस्ताक्षर किए हैं।
ii.यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का लक्ष्य एचडीएफसी लाइफ के माध्यम से अपने ग्राहकों को जीवन बीमा उत्पादों की सुविधाएं प्रदान करना है।
iii.एचडीएफसी लाइफ के लिए इस साल यह तीसरा पीएसयू बैंक टाई-अप है।
iv.वे अपने आपसी व्यापार को फैलाने के लिए एक दूसरे के ग्राहक आधार का उपयोग करना चाहते हैं।

BUSINESS & ECONOMY

ओईसीडी ने 2019 में वैश्विक विकास पूर्वानुमान कम कर 3.3% किया:
i.ऑर्गनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट (ओईसीडी) ने 2019 और 2020 में वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए पूर्वानुमानों में कटौती की है, क्यूंकि ब्रेक्सिट को लेकर विवाद और अनिश्चितता पैदा हो सकती है, जो विश्व वाणिज्य और व्यवसायों को काफी प्रभावित करेगा।
ii.ऑर्गनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट द्वारा अंतरिम आउटलुक रिपोर्ट 2019 के लिए 3.3% की वृद्धि दर और 2020 के लिए 3.4% की भविष्यवाणी करती है, जो कि नवंबर 2018 के पूर्वानुमानों की तुलना में क्रमशः 0.2% और 0.1% कम है।

भारत ने ठोस प्लास्टिक अपशिष्ट के आयात पर प्रतिबंध लगाया:
i.सरकार ने देश में ठोस प्लास्टिक कचरे/स्क्रैप के आयात पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है।
ii.प्लास्टिक के आयात को पहले आंशिक रूप से प्रतिबंधित कर दिया गया था क्योंकि यह विशेष आर्थिक क्षेत्रों (एसईजेड) में निषिद्ध था, लेकिन निर्यात-उन्मुख इकाइयों (ईओयू) द्वारा अनुमति दी गई थी, जो इसे रीसाइक्लिंग के बाद के संसाधनों के रूप में अन्य देशों से प्राप्त कर सकते थे।
iii.यह पूर्ण निषेध 1 मार्च को खतरनाक अपशिष्ट (प्रबंधन और सीमा-पार संचालन) नियमों के संशोधन द्वारा किया गया है।
iv.यह नियम 2022 तक एकल उपयोग वाले प्लास्टिक को पूरी तरह से समाप्त करने के लिए भारत के उद्देश्य का एक हिस्सा है।
v.केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के एक अध्ययन में कहा गया है कि देश में 25,940 टन प्लास्टिक कचरे में से 10,376 टन (40%) देश में प्रतिदिन बिना जमा के रह जाता है।
vi.श्वेत श्रेणी के उद्योगों को अब अपने प्रदूषित कचरे को अधिकृत उपयोगकर्ताओं, अपशिष्ट कलेक्टरों या निपटान सुविधाओं को देना आवश्यक है। श्वेत श्रेणी के उद्योग वे हैं जो या तो गैर या बहुत कम प्रदूषण वाले हैं और इनमें 36 औद्योगिक क्षेत्र शामिल हैं जैसे एयर-कूलर, एयर-कंडीशनर, बिस्किट बनाना, मेटल कैप, हैंडलूम और चॉक-मेकिंग आदि।
vii.रेशम कचरे के निर्यातकों को अब मंत्रालय से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है।
viii.पर्यावरण मंत्रालय से अनुमति प्राप्त किए बिना, दोषपूर्ण विद्युत और इलेक्ट्रॉनिक असेंबलियों और भारत से निर्मित और निर्यात किए गए घटकों को अब निर्यात के एक साल के भीतर देश में वापस आयात किया जा सकता है।

AWARDS & RECOGNITIONS

भुवनेश्वर के बीजू पटनायक अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा ने एएसक्यू पुरस्कार जीता:Bhubaneswar’s Biju Patnaik International Airport wins ASQ awardi.भुवनेश्वर में बीजू पटनायक अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे ने वर्ष 2018 के लिए आकार और क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डा (एशिया-प्रशांत में 2-5 मिलियन यात्री) के लिए हवाई सेवा गुणवत्ता (एएसक्यू) पुरस्कार जीता।
ii.इसे एयरपोर्टज काउंसिल इंटरनेशनल द्वारा पुरस्कार के लिए चुना गया है।
iii.चंडीगढ़ एयरपोर्ट, इंदौर में देवी अहिल्याबाई होल्कर एयरपोर्ट, इंडोनेशिया में एसएम बदरुद्दीन II एयरपोर्ट, इंडोनेशिया में एसएस कासिम II एयरपोर्ट और चीन में येचांग सैंक्सिया एयरपोर्ट को भी पुरस्कार के लिए चुना गया।
iv.पुरस्कार सुरक्षा, रक्षा, अनुभव, माहौल, उपलब्धता में आसानी और स्वच्छता के मापदंडों पर यात्रियों के बीच स्वतंत्र सर्वेक्षण के आधार पर दिया जाता है।
ओडिशा:
♦ राजधानी: भुवनेश्वर
♦ मुख्यमंत्री: नवीन पटनायक
♦ राज्यपाल: गणेशी लाल

APPOINTMENTS & RESIGNS

सौम्या स्वामीनाथन को डब्ल्यूएचओ में मुख्य वैज्ञानिक के रूप में नियुक्त किया गया:Soumya Swaminathan appointed as Chief Scientist at WHOi.सौम्या स्वामीनाथन जो वर्तमान में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक उप महानिदेशक हैं, उन्हें विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का मुख्य वैज्ञानिक नियुक्त किया गया है।
ii.वह डायरेक्टर-जनरल टेड्रोस एडनॉम घेब्येयूसस को असिस्ट करने वाले 3 डिप्टी डायरेक्टर-जनरल में से एक हुआ करती थी।
iii.मुख्य वैज्ञानिक एक नव निर्मित पद और विभाजन है।
iv.यह नया प्रभाग डिजिटल साइंटिफिक विभाग, मुख्य वैज्ञानिक के डिवीजन में है। वह डिजिटल काम की देखरेख करेंगी और डिजिटल तकनीकों का आकलन करने में विभाग की मदद करेंगी, और देशों को यह तय करने में मदद करेंगी कि कैसे उन्हें प्राथमिकता, एकीकरण और विनियमन करना है।

अजीत कुमार मोहंती को भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र के निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया:
i.6 मार्च 2019 को, कार्मिक मंत्रालय द्वारा भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (बार्क) के निदेशक के रूप में एक प्रतिष्ठित वैज्ञानिक अजीत कुमार मोहंती को तीन साल की अवधि के लिए नियुक्त किया गया।
ii.वर्तमान में, वह भौतिकी समूह, बार्क के निदेशक और साहा इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर फिजिक्स के निदेशक का पद संभालते हैं।
iii.वह के.एन.व्यास की जगह लेंगे, जिन्होंने सितम्बर 2018 में परमाणु ऊर्जा आयोग के अध्यक्ष और परमाणु ऊर्जा विभाग के सचिव का पदभार संभाला था।

केंद्र ने सऊदी अरब में औसाफ सईद को भारत का नया राजदूत नामित किया:
i.सेशेल्स गणराज्य में भारत के वर्तमान उच्चायुक्त, डॉ औसाफ सईद को विदेश मंत्रालय द्वारा सऊदी अरब में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है।
ii.उन्हें अहमद जावेद के स्थान पर नियुक्त किया गया है, जो दिसंबर 2015 से सऊदी अरब के दूत थे।
iii.वह 1989 बैच के भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) अधिकारी हैं।
iv.उन्होंने इससे पहले यमन में राजदूत और शिकागो और जेद्दा में भारत के महावाणिज्यदूत का पद संभाला था।

मिजोरम के राज्यपाल कुम्मनम राजशेखरन ने अपने पद से इस्तीफा दिया:
i.8 मार्च 2019 को, मिजोरम के राज्यपाल, कुम्मनम राजशेखरन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया और उन्हें तिरुवनंतपुरम लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार के रूप में चुना जा सकता है। उनका इस्तीफा भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने स्वीकार कर लिया है।
ii.असम के राज्यपाल जगदीश मुखी को उनकी जगह अस्थायी रूप से नियुक्त किया गया है।
कुम्मनम राजशेखरन के बारे में:
i.वह केरल के पूर्व भाजपा राज्य अध्यक्ष थे।
ii.उन्होंने मई 2018 में मिजोरम के राज्यपाल के रूप में कार्यभार संभाला था।
मिजोरम:
♦ राजधानी: आइजॉल

SCIENCE & TECHNOLOGY

ई-धरती ऐप को हरदीप एस पुरी ने लॉन्च किया:
i.7 मार्च 2019 को, आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप एस पुरी ने सभी तीन मॉड्यूल-रूपांतरण, प्रतिस्थापन और उत्परिवर्तन ऑनलाइन करने के लिए ई-धरती ऐप लॉन्च किया।
ii.हरदीप पुरी द्वारा ई-धरती जियोपोर्टल को भी लॉन्च किया गया था ताकि संपत्ति के पट्टेदार को संपत्ति के मूल विवरण को मानचित्र पर उसके स्थान के साथ देख सकें।
iii.सरकार ऐप के माध्यम से अपनी खाली संपत्तियों की वास्तविक स्थिति जान सकेगी।
iv.भूमि और विकास कार्यालय (एल एंड डीओं) में भुगतान प्रणाली को डिजिटल कर दिया गया है और अब, जनता अपना आवेदन एल एंड डीओं वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन जमा कर सकती है।

पीएम-एसटीआईएसी (प्रधानमंत्री विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार सलाहकार परिषद) ने राष्ट्रीय महत्व के नौ मिशनों की घोषणा की:
i.राष्ट्रीय महत्व के 9 मिशनों का अनावरण प्रधानमंत्री विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार सलाहकार परिषद (पीएम-एसटीआईएसी) ​​द्वारा किया गया है। ये मिशन महत्वपूर्ण क्षेत्रों जैसे कृत्रिम बुद्धिमत्ता, क्वांटम कंप्यूटिंग, इलेक्ट्रिक वाहन और गहरे महासागर की खोज को कवर करते हैं।
ii.अक्टूबर 2018 में पीएम-एसटीआईएसी का गठन किया गया था। परिषद के प्रमुख विजय राघवन हैं और अन्य सदस्य:- नीति आयोग के सदस्य वीके सारस्वत, इसरो के पूर्व अध्यक्ष एएस किरण कुमार, फील्ड मेडल विजेता गणितज्ञ मंजुल भार्गव और भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी के अध्यक्ष अजय कुमार सूद हैं।
iii.क्वांटम फ्रंटियर मिशन का उद्देश्य क्वांटम कंप्यूटिंग, क्वांटम क्रिप्टोलॉजी और क्वांटम संचार जैसे क्वांटम तकनीकों को मजबूत करना है और इसका नेतृत्व विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) करेगा।
iv.मिशन ऑन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) विकासशील अनुप्रयोगों पर ध्यान केंद्रित करेगा और इसका नेतृत्व नीति आयोग करेगा।
v.भारतीयों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए जैव विविधता के दोहन पर एक मिशन का नेतृत्व जैव प्रौद्योगिकी विभाग और स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग द्वारा किया जाएगा।
vi.प्रकाश और कुशल बैटरी, वाहन उप-प्रणाली और भारतीय परिस्थितियों के लिए उपयुक्त घटकों को विकसित करके लागत-अनुकूल और ऊर्जा-कुशल इलेक्ट्रिक वाहनों के विकास पर एक मिशन, जिसमें दुर्लभ-पृथ्वी आधारित इलेक्ट्रिक मोटर्स भी शामिल हैं, को अपनाया गया है।
vii.एक मिशन जिसका उद्देश्य गहरे समुद्र को परिमार्जन करना है, का नेतृत्व पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय करेगा।
viii.बाकी मिशनों में कचरे से संपत्ति पैदा करना, जैव विविधता का संरक्षण करना, स्टार्ट-अप के लिए एक नवाचार पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण करना और भारतीय छात्रों की मदद करने के लिए मशीन और मानव अनुवाद तकनीकों के संयोजन का उपयोग करना शामिल है जो अंग्रेजी भाषा के वैज्ञानिक ज्ञान से अच्छी तरह से वाकिफ नहीं हैं।

एक अध्ययन से पता चला है कि भारत के खसरे के टीके अभियानों ने हजारों बच्चों को बचाने में मदद की है:
i.ई-लाइफ में प्रकाशित एक अध्ययन में कहा गया है कि खसरे के टीके के अभियानों ने भारत में 41,000-56,000 बच्चों को बचाने में मदद की है जो 2010 से 2013 के बीच की अवधि में राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली मौतों की संख्या का 39-57 प्रतिशत है।
ii.1-59 महीने के आयु वर्ग के बच्चों में मृत्यु दर उन राज्यों में 27% तक गिर गई जहां अभियान को लागू किया गया जबकि गैर-अभियान वाले राज्यों में सिर्फ 11% गिरावट देखी गई।
iii.भारत उन देशों की सूची में अंतिम स्थान पर है जिन्होंने राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रमों के हिस्से के रूप में खसरे के टीके की दो खुराक को अपनाया।
iv.दूसरी खुराक वाले खसरे के टीके को बड़े पैमाने पर टीकाकरण के साथ 2010 में लागू किया गया था।
v.3 साल की अवधि के दौरान उनके मामले में मृत्यु दर में गिरावट के साथ लड़कों की तुलना में लड़कियों के मामले में अभियान अधिक सफल पाया गया।

SPORTS

16 वर्षीय पी इयान भारत के 61 वें शतरंज ग्रैंडमास्टर बने:P. Iniyan became 61st Chess Grandmaster of Indiai.तमिलनाडु के इरोड के 16 वर्षीय इनियान पन्नीरसेल्वम ने छठे दौर में यूक्रेन के जीएम (ग्रैंड मास्टर) सर्गेई फेडोरचुक को हराकर फ्रांस के नॉयसियल ओपन में जीत हासिल की और भारत के लिए 61 वें ग्रैंडमास्टर बन गए जिन्होंने ईएलओ रेटिंग में 2500 अंकों को पार कर दिया हैं।
ii.भारत के पहले शतरंज ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद ने ट्विटर के माध्यम से उनकी उपलब्धि पर उन्हें बधाई दी।

OBITUARY

केन्याई एथलिट डैनियल रुदिशा का 73 वर्ष की आयु में निधन हो गया:Kenyan athelete, Daniel Rudisha passed awayi.6 मार्च 2019 को नैरोबी के उत्तर-पश्चिम में नाकुरु में दिल के दौरे से एथलेटिक्स कोच बने पूर्व शिक्षक डैनियल रुदिशा का निधन हो गया। उनका जन्म केन्या के किलगोरिस में हुआ था।
ii.वह 1968 के मैक्सिको ओलंपिक में केन्या के रजत पदक जीतने वाली चौकड़ी के सदस्य थे।

पूर्व पुदुचेरी एलजी वीरेंद्र कटारिया का 88 वर्ष की आयु में निधन हो गया:
i.पुदुचेरी के 21 वें उपराज्यपाल और पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीपीसीसी) के पूर्व प्रमुख वीरेंद्र कटारिया का 88 वर्ष की आयु में निधन हो गया।
ii.वह अबोहर, पंजाब से थे और उनके एक बेटे और बेटी हैं।
iii.पुदुचेरी के लेफ्टिनेंट गवर्नर किरण बेदी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया और उनका सम्मान किया।
पुदुचेरी:
♦ मुख्यमंत्री: वी नारायणसामी
♦ राज्यपाल: किरण बेदी

IMPORTANT DAYS

8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया गया:International Women’s Dayi.अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च 2019 को मनाया गया था। इस वर्ष का विषय ‘समान सोचें, स्मार्ट बनाएं, बदलाव के लिए नया करें’ है।
ii.इस अवसर पर, महिला और बाल विकास मंत्रालय (डव्लूसीडी) और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के बीच एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए, जिसका उद्देश्य महिलाओं को कौशल-प्रशिक्षण और रोजगार प्रदान करना है।
iii.महिलाओं द्वारा बनाए गए उत्पादों को बेचने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म महिला ई हाट में अधिकांश महिलाओं को शामिल करने के लिए डब्ल्यूसीडी मंत्रालय आरएमके (राष्ट्रीय महिला कोष) को शामिल करेगा।
iv.समझौता ज्ञापन 3 वर्षों के लिए मान्य होगा और राष्ट्रीय महिला कोष और राष्ट्रीय कौशल विकास परिषद द्वारा संयुक्त रूप से लागू किया जाएगा।
v.नारी शक्ति पुरस्कार 2018 को नई दिल्ली में भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद द्वारा 41 महिलाओं को प्रस्तुत किया गया था।
vi.वन स्टॉप सेंटर (ओंएससी) पुरस्कार उत्तर प्रदेश की महिला और बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी को ओंएससी, लखनऊ के लिए प्रदान किया।

STATE NEWS

‘मुख्यमंत्री आंचल अमृत योजना’ आगनवाड़ी बच्चों के लिए उत्तराखंड मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई:
i.7 मार्च 2019 को, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा देहरादून में ‘मुख्यमंत्री आंचल अमृत योजना’ शुरू की गई।
ii.इस योजना का उद्देश्य उत्तराखंड के 20,000 आंगनवाड़ी केंद्रों में 2.5 लाख बच्चों को सप्ताह में दो बार 100 मिलीलीटर दूध उपलब्ध कराना है।
iii.इन बच्चों को फ्लेवर्ड, मीठा, स्किम्ड मिल्क पाउडर उपलब्ध कराया जाएगा।