Current Affairs Hindi – May 12 2019

हैलो दोस्तों, www.affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 12 मई ,2019 के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं। हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – 11 May 2019Current Affairs Today May 12 2019

INDIAN  AFFAIRS

डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की भारी कमी है, खासकर बिहार, झारखंड, यू.पी. और राजस्थान में:
i.डब्ल्यूएचओ (वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन) ने ‘डब्ल्यूएचओ साउथ-ईस्ट एशिया जर्नल ऑफ पब्लिक हेल्थ’ में ‘2026 तक भारत में सार्वजनिक स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए भविष्य की जरूरतों और आवश्यकताओं में कमी के पूर्वानुमानों’ शीर्षक वाला एक शोध पत्र प्रकाशित किया है, जिसमें कहा गया है कि भारत को स्वास्थ्य पेशेवरों की कमी का सामना करना पड़ रहा है, खासकर बिहार, झारखंड, यूपी में (उत्तर प्रदेश) और राजस्थान में जिनमें दिल्ली, केरल, पंजाब और गुजरात की तुलना में सबसे खराब अनुपात है।
ii.स्वास्थ्य कार्यबल में उन सभी लोगों को शामिल किया गया है जो किसी भी तरह के स्वास्थ्य मुद्दे से प्रभावित आम जनता के स्वास्थ्य को बढ़ाने और सुधारने के लिए हैं।
iii.डब्ल्यूएचओ के डेटाबेस के अनुसार, भारत में स्वास्थ्य क्षेत्र में कार्यरत 5 मिलियन श्रमिकों के बावजूद, भारत में स्वास्थ्य प्रदाताओं का कम घनत्व श्रीलंका, चीन, थाईलैंड, यूनाइटेड किंगडम और ब्राजील जैसे देशों की तुलना में कम है।
iv.भारत के स्वास्थ्य कर्मचारियों को मोटे तौर पर 8 श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है जिन्हें इस प्रकार नामित किया गया है:
-डॉक्टर (एलोपैथिक, वैकल्पिक चिकित्सा)
-नर्सिंग और दाई का काम करने वाले पेशेवर
-सार्वजनिक स्वास्थ्य पेशेवर (चिकित्सा, गैर-चिकित्सा)
-फार्मासिस्ट
-दंत चिकित्सक
-पैरामेडिकल वर्कर्स (संबद्ध स्वास्थ्य पेशेवर)
-ग्रास-रूट वर्कर्स (फ्रंटलाइन वर्कर्स)
-सहायक कर्मचारी
v.डब्ल्यूएचओ ने सूचित किया कि 2030 तक दक्षिण पूर्व एशिया को सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज तक पहुंचने के लिए स्वास्थ्य सेवा में 50% वृद्धि की आवश्यकता है।
vi.सुधार के लिए की जाने वाली तात्कालिक कार्रवाई इस प्रकार है:
-गैर-चिकित्सक देखभाल प्रदाताओं की विभिन्न श्रेणियों का रोजगार।
-मूल्यांकन क्षमता या मूल क्षमता के लिए दिया जाना चाहिए, ना कि सिर्फ योग्यता के लिए।
-नवाचारों के लिए लचीलेपन को शामिल करने के लिए नियामक संरचनाओं में बदलाव लाया जाना चाहिए।
vii.डब्ल्यूएचओ द्वारा किया गया शोध अध्ययन यह बताता है कि 2008 के सरकारी आंकड़ों के अनुसार स्वीकृत पदों में रिक्तियों के आधार पर:
-18% प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बिना डॉक्टर के थे।
-38% प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एक प्रयोगशाला तकनीशियन के बिना थे।
-16% प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बिना फार्मासिस्ट के थे।

उच्च शिक्षा विभाग ने शिक्षकों के लिए नए शोध मानदंड जारी किए:
i.उच्च शिक्षा विभाग ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा वित्त पोषित योजना के लिए नए मानदंड जारी किए हैं, जो उन कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के शिक्षकों के लिए हैं जो अनुसंधान में भाग लेते हैं। यह आदेश योजना के लाभार्थियों द्वारा कई उल्लंघनों करने का पता लगाने के बाद जारी किया गया है।
ii.सरकार ने देखा है कि कई शिक्षक कार्यक्रम को बीच में ही छोड़ देते हैं या अपनी थीसिस जमा करने में असफल रहते हैं। संकाय (फ़ैकल्टी) सुधार कार्यक्रम (एफआईपी) प्रतिनियुक्ति से लौटने के बाद कुछ शिक्षक अनिवार्य सेवा प्रदान करने में विफल रहते हैं। इससे जनता के पैसे का भारी नुकसान हुआ है।
iii.इन समस्याओं से निपटने के लिए, सरकार ने उन शिक्षकों पर जुर्माना लगाने का फैसला किया है जो नियमों का पालन करने में विफल रहते हैं। जो लोग प्रतिनियुक्ति के बाद अनिवार्य सेवा प्रदान करने में विफल रहते हैं, उन्हें जुर्माना देना होगा, जिसमें उनकी फेलोशिप के दौरान निकाले गए भत्ते के साथ वेतन और नए शिक्षक को दिया जाने वाला वेतन और ब्याज सहित आकस्मिक अनुदान देना होगा।
iv.यदि शिक्षक प्रतिनियुक्ति की अवधि समाप्त होने की तारीख से छह महीने तक थीसिस जमा करने में विफल रहता है, तो वे आकस्मिक अनुदान, नए शिक्षक के वेतन और ब्याज के साथ 25,000 रुपये का जुर्माना जमा करेंगे। सरकार 45 साल से कम उम्र के शिक्षकों के लिए शोध योजना को भी प्रतिबंधित करेगी।

INTERNATIONAL AFFAIRS

58 वी वेनिस कला प्रदर्शनी इटली के वेनिस में 11 मई से 24 नवंबर 2019 तक आयोजित की जा रही है:58th Venice Biennalei.8 वर्षों के लंबे अंतराल के बाद, भारत ने फिर से 58 वी वेनिस कला प्रदर्शनी, इटली में अपनी उपस्थिति दर्ज की है जो 11 मई से 24 नवंबर 2019 (6 महीने की अवधि) तक आयोजित की जाएगी। प्रदर्शनी का शीर्षक ‘मे यू लिव इन इंट्रेस्टिंग टाइम्स’ है। यह राल्फ रगॉफ द्वारा सजाई गई है।
ii.शुरुआत में अप्रैल 1895 में खोली गई, वेनिस कला प्रदर्शनी दुनिया की सबसे पुरानी, ​​सबसे बड़ी और सबसे प्रतिष्ठित कला प्रदर्शनी है। इसे ‘वेनिस’ में आयोजित किया जाता है, जिसे ‘द क्वीन ऑफ द एड्रियाटिक’ और ‘द फ्लोटिंग सिटी’ के रूप में भी जाना जाता है।
iii.वेनिस कला प्रदर्शनी का आयोजन वेनिस बाईनले फाउंडेशन द्वारा आयोजित किया गया था, जिसकी अध्यक्षता पाओलो बरत्ता ने की थी और यह समकालीन कला, समकालीन नृत्य, वास्तुकला, सिनेमा और थिएटर पर केंद्रित है।
iv.कला प्रदर्शनी में भारत की शुरुआत 2011 में ‘एवरीवन एग्रीस: इट्स अबाउट टू एक्सप्लोड’ के साथ हुई, जो रंजीत होसकोटे द्वारा सजाई गई थी। यह पहली बार प्रदर्शनी शुरू होने के लगभग 116 साल बाद था।
v.इंडियन पविलियन का विषय ‘महात्मा गांधी के 150 वर्ष’ है, जबकि भारत की प्रदर्शनी का शीर्षक ‘अवर टाइम फॉर फ्यूचर कैरिंग’ है, जिसे रूबीना कारोडे द्वारा सजाया गया है। इसे भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा निर्धारित किया गया है।
vi.भारत राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सत्याग्रह (अहिंसा), समानता और एकता के गांधीवादी मूल्यों को दर्शाने के लिए प्रदर्शनी करेगा।
vii.भारत का पविलियन 400 हरिपुरा पोस्टर में से 16 को अपनी दीवारों पर लगाएगा। यह 1938 के तथ्य पर आधारित है जब महात्मा गांधी ने भारतीय आधुनिक कलाकार नंदलाल बोस को भारतीय जीवन के विभिन्न पहलुओं को चित्रित करते हुए 400 पोस्टर बनाने के लिए कहा था। फिर उन्हें गुजरात के हरिपुरा में ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ के सत्र में प्रदर्शित किया गया था।
viii.किरण नादर म्यूज़ियम ऑफ़ आर्ट (केएनएमए) और नेशनल गैलरी ऑफ़ मॉडर्न आर्ट (एनजीएमए) के वित्तीय समर्थन से, भारत पवेलियन में 8 समकालीन कलाकार हैं।

बेसल, रॉटरडैम और स्टॉकहोम कन्वेंशनों के लिए सीओपी 2019 की बैठक स्विट्जरलैंड में आयोजित हुई:BC COP-14i.जिनेवा अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र (सीआईसीजी) जिनेवा, स्विट्जरलैंड में, बेसल कन्वेंशन के लिए पार्टियों के सम्मेलन (बीसी सीओपी-14) की 14 वीं बैठक, रॉटरडैम कन्वेंशन के लिए पार्टियों के सम्मेलन (आरसी सीओपी-9) की 9 वीं बैठक और स्टॉकहोम कन्वेंशन के लिए पार्टियों के सम्मेलन (एससी सीओपी-9) की 9 वीं बैठक को 29 अप्रैल से 10 मई, 2019 तक आयोजित किया गया। बैठक का विषय था ‘स्वच्छ ग्रह, स्वस्थ लोग: रसायन और कचरे का अच्छा प्रबंधन ‘। बैठक में, 187 देशों ने वैश्विक प्लास्टिक कचरे को प्रतिबंधित करने की प्रतिज्ञा की लेकिन संयुक्त राज्य अमेरिका ने इस प्रतिज्ञा में भाग लेने से इनकार कर दिया।
ii.बेसल कन्वेंशन के लिए पार्टियों के सम्मेलन (सीओपी-14) की 14 वीं बैठक ने कचरे के पर्यावरणीय रूप से प्रबंधन (ईएसएम) को संबोधित करने के लिए दृष्टिकोण सांझा किया। इसका उद्देश्य इलेक्ट्रॉनिक्स (ई-कचरे) से उत्पन्न अपशिष्ट, तकनीकी कार्बनिक प्रदूषकों (पीओपी), सीसा एसिड बैटरी और पारा के साथ-साथ कुछ खतरनाक अपशिष्ट उपचार विधियों से उत्पन्न कचरे के लिए तकनीकी दिशानिर्देशों को विकसित करना है।
iii.सीओपी -14 ने कन्वेंशन के कार्यान्वयन से संबंधित मामलों के बारे में पार्टियों के बीच चर्चा की है जिसमें प्रतिबंध संशोधन, और खतरनाक कचरे और अन्य अपशिष्टों की रोकथाम, न्यूनतमकरण और पुनर्प्राप्ति पर कार्टाजेना घोषणा में रणनीतिक रूपरेखा प्रविष्टि शामिल है।
iv.जेनेवा में 3 से 6 सितंबर, 2018 तक आयोजित बेसल कन्वेंशन के ओपन-एंडीड वर्किंग ग्रुप (ओईडब्ल्यू जी 11) की 11 वीं बैठक में सहमति के अनुसार और सीओपी-14 से निन्मलिखित परिणाम शामिल हैं:
-प्लास्टिक कचरे पर एक नई साझेदारी स्थापित करने का प्रस्ताव।
-ई-कचरे पर तकनीकी दिशानिर्देशों का विकास।
-ठोस प्लास्टिक कचरे के संबंध में कन्वेंशन के पूरक अंश में संभावित संशोधन।
-चार मसौदा मार्गदर्शन दस्तावेजों पर परामर्श।
-विश्व सीमा शुल्क संगठन (डब्ल्यूसीओ) के साथ सहयोग बढ़ाना।
बेसल कन्वेंशन के बारे में:
-यह ‘खतरनाक अपशिष्टों और उनके निपटान के सीमा संचालन के नियंत्रण पर बेसल कन्वेंशन’ के रूप में भी जाना जाता है।
-यह एक अंतर्राष्ट्रीय संधि है और इस संधि का उद्देश्य राष्ट्रों के बीच खतरनाक कचरे के संचालन को कम करना है और विशेष रूप से विकसित देश से कचरे को कम विकसित देशों (एलडीसी) में स्थानांतरित करने से रोकना है।
-अब तक, संधि के लिए 187 समर्थक और 53 हस्ताक्षरकर्ता है।
रॉटरडैम कन्वेंशन के बारे में:
-यह अंतर्राष्ट्रीय व्यापार में कुछ खतरनाक रसायनों और कीटनाशकों के लिए पूर्व सूचित सहमति प्रक्रिया पर रॉटरडैम कन्वेंशन के रूप में भी जाना जाता है।
-इस संधि का उद्देश्य मानव स्वास्थ्य और पर्यावरण को संभावित नुकसान से बचाने के लिए कुछ खतरनाक रसायनों के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार में पार्टियों के बीच साझा जिम्मेदारियों और सहकारी प्रयासों को बढ़ावा देना है और इन रसायनों के अच्छे पर्यावरणीय उपयोग में भी योगदान करना है।
-अब तक, संधि के लिए 161 समर्थक और 72 हस्ताक्षरकर्ता है।
स्टॉकहोम कन्वेंशन के बारे में:
-इसे निरंतर कार्बनिक प्रदूषकों पर स्टॉकहोम कन्वेंशन के रूप में भी जाना जाता है।
-यह एक अंतरराष्ट्रीय संधि है और संधि का उद्देश्य निरंतर जैविक प्रदूषकों (पीओपी) के उत्पादन और उपयोग को समाप्त करना या प्रतिबंधित करना है।
-अब तक, संधि के लिए 182 समर्थक और 152 हस्ताक्षरकर्ता है।

BUSINESS & ECONOMY

फेसबुक ने व्हाट्सएप की मोबाइल भुगतान सेवा को विकसित करने के लिए लंदन को केंद्र के रूप में चुना:
i.फेसबुक के सीईओ, मार्क जुकरबर्ग ने पुष्टि की है कि उन्होंने व्हाट्सएप पे को लॉन्च करने के लिए लंदन को चुना है। यूएस सिटी की तुलना में लंदन को चुनने का कारण यह है कि व्हाट्सएप का यूके में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है और लंदन को फिनटेक के लिए हब के रूप में माना जाता है।
ii.विश्व स्तर पर व्हाट्सएप के 1.5 बिलियन उपयोगकर्ता हैं, जिनमें से 200 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ता भारत में हैं।
iii.इस नए फीचर को लॉन्च करने की प्रक्रिया में, व्हाट्सएप लंदन में लगभग 100 नए सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को नियुक्त करेगा और डबलिन में अतिरिक्त कर्मचारियों को काम पर रखा जाएगा।
iv.अप्रैल में, भारतीय रिजर्व बैंक ने भुगतान प्रणाली प्रदाताओं के लिए डेटा स्थानीयकरण नीति के संबंध में एक परिपत्र जारी किया। डेटा स्थानीयकरण का अर्थ है भारत के भीतर डेटा का भंडारण। 3 मई को, फेसबुक ने सुप्रीम कोर्ट को आश्वासन दिया कि वह भारत में पूर्ण भुगतान सेवा शुरू करने से पहले आरबीआई के डेटा स्थानीयकरण मानदंडों का पालन करेगा।
फेसबुक के बारे में:
♦ मुख्यालय: मेनलो पार्क, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका
♦ स्थापित: 4 फरवरी, 2004
♦ सीईओ: मार्क जुकरबर्ग
व्हाट्सएप के बारे में:
♦ मुख्यालय: माउंटेन व्यू, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका
♦ स्थापित: 2009
♦ मूल संगठन: फेसबुक

AWARDS & RECOGNITIONS

निर्भया बलात्कार मामले की जांच करने वाले आईपीएस अधिकारी छाया शर्मा को मैककेन इंस्टीट्यूट अवार्ड 2019 मिला:
i.10 मई 2019 को, कुख्यात निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले की जांच टीम का नेतृत्व करने वाली आईपीएस अधिकारी छाया शर्मा को शौर्य और नेतृत्व के लिए 2019 मैककेन इंस्टीट्यूट अवार्ड से सम्मानित किया गया है।
ii.उन्होंने संवेदनशील आपराधिक मामलों का पता लगाने और जांच करने और मानवाधिकारों की रक्षा करते हुए टीमों का मार्गदर्शन किया है।
iii.2017 में, छाया ने भारत में व्यक्तियों की ट्रैफिकिंग का मुकाबला करने के लिए मानक संचालन प्रक्रियाओं और दिशानिर्देशों का मसौदा तैयार करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
iv.यह पुरस्कार उन लोगों को प्रदान किया जाता है जो मानव अधिकारों, मानवीय करुणा, न्याय, स्वतंत्रता और मानवीय गरिमा की ओर से साहस प्रकट करते हैं।
v.अन्य प्रसिद्ध पुरस्कार विजेता हैं- मलालायुसफ़ज़ाई (2015) और डिकैम्बे म्यूटोम्बो (2016)।
मैककेन संस्थान के बारे में:
स्थापित: 2012
लीडर: कर्ट वोल्कर
स्थान: वाशिंगटन, डी.सी.

APPOINTMENTS & RESIGNS

भारतीय अभिनेत्री दीया मिर्जा और अलीबाबा के प्रमुख जैक मा एसडीजी के लिए संयुक्त राष्ट्र के 17 नए अधिवक्ताओं में शामिल:Dia Mirza and Jack Mai.संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को प्राप्त करने के लिए 17 नए अधिवक्ताओं की नियुक्ति की है। इनमें भारतीय अभिनेत्री दीया मिर्जा और अलीबाबा ग्रुप के प्रमुख जैक मा शामिल हैं।
ii.संयुक्त राष्ट्र के नव नियुक्त अधिवक्ता 17 प्रभावशाली वैश्विक चेहरे हैं। यह इन अधिवक्ताओं की जिम्मेदारी है कि वे जागरूकता बढ़ाएं, अधिक से अधिक महत्वाकांक्षा को प्रेरित करें और एसडीजी पर तेजी से कार्रवाई के लिए कड़ी मेहनत करें, जिसे दुनिया के नेताओं ने 25 सितंबर, 2015 को अपनाया था।
iii.अन्य नव नियुक्त एसडीजी अधिवक्ता बेल्जियम की रानी मैथिल्डे, शेखा मोझा बिन्ट नासर, संस्थापक, एजुकेशनअबोव ऑल फाउंडेशन (स्टेट ऑफ कतर), ब्रिटिश पटकथा लेखक, निर्माता और फिल्म निर्देशक रिचर्ड कर्टिस, नोबेल पुरस्कार विजेता नादिया मुराद, कोलंबिया विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट के निदेशक, जेफरी सैक्स, ब्राजील के फुटबॉलर और संयुक्त राष्ट्र महिला सद्भावना राजदूत और संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, व्हिटकर शांति और विकास पहल, वन व्हिटकर है।
v.संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने एसडीजी अधिवक्ता के पिछले वर्ग के कुछ सदस्यों को नियुक्त किया है जैसे कि स्वीडन की क्राउन प्रिंसेस विक्टोरिया, लाइबेरिया के नोबेल पुरस्कार विजेता लेहमाह गॉबी और नोबेल पुरस्कार विजेता और बांग्लादेश के ग्रामीण बैंक के संस्थापक मोहम्मद यूनुस को एसडीजी अधिवक्ता एलुमनाई के रूप में नियुक्त किया गया।
vi.अलीबाबा ग्रुप के चीफ, जैक मा 2016 से एसडीजी अधिवक्ता रहे हैं।
vii.अभिनेत्री दीया मिर्जा भारत के लिए संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम सद्भावना राजदूत भी हैं।

SPORTS

विश्व की पहली महिला क्रिकेट पत्रिका ‘क्रिकज़ोन’ का शुभारंभ हुआ:CRICZONEi.हाल ही में, दुनिया की पहली विशेष महिला क्रिकेट पत्रिका ‘क्रिकज़ोन’ का विमोचन भारतीय महिला क्रिकेट टीम की उप-कप्तान स्मृति मंधाना की कवर स्टोरी के रूप में किया गया। पत्रिका के प्रकाशक यश लाहोटी हैं।
ii.पत्रिका ‘क्रिकज़ोन’ का शुभारंभ उद्घाटन जयपुर, राजस्थान में महिलाओं के टी 20 चैलेंज इवेंट के मौके पर किया गया था, जिसमें मिताली राज, स्मृति मंधाना, हरमनप्रीत कौर और डेनियल व्याट और सोफी डेविने जैसी विदेशी खिलाड़ियों ने भाग लिया था।
iii.इस पत्रिका का उद्देश्य युवा आकांक्षी महिला क्रिकेटरों को खेल को पेशे के रूप में लेने और इससे स्थायी जीवनयापन बनाने के लिए सशक्त बनाना है।

डेजर्ट स्टॉर्म रैली 2019:
i.भारत के सबसे प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय मोटरस्पोर्ट इवेंट, डेजर्ट स्टॉर्म रैली 2019 का 17 वां संस्करण 7 से 11 मई, 2019 तक राजस्थान में आयोजित किया गया। इस आयोजन में 3 श्रेणियों एक्सट्रिम, मोटो और न्दुरे में 34 टीमों के साथ 130 उम्मीदवारों की भागीदारी देखी गई।
ii.श्रेणी मोटो को टीवीएस रेसिंग से अद्रिएन मेत्गे ने जीता था। उनके बाद हीरो मोटरस्पोर्ट्स के सीएस संतोष और टीवीएस रेसिंग के अब्दुल वाहिद तनवीर थे।
iii.एक्सट्रिम श्रेणी का खिताब अभिषेक मिश्रा (सह-चालक श्रीकांत गौड़ा) ने हासिल किया, जबकि न्दुरे श्रेणी को अंकुर चौहान (सह-चालक प्रकाश एम) ने जीता।

OBITUARY

अभिनेता क्लेमेंट वॉन फ्रेंकस्टीन का 74 साल की उम्र में निधन हुआ:Clement von Franckensteini.9 अप्रैल, 2019 को, उर्वेन ब्रिटिश अभिनेता, क्लेमेंट वॉन फ्रेंकस्टीन का लॉस एंजिल्स के सीडर-सिनाई मेडिकल सेंटर में 74 वर्ष की आयु में हाइपोक्सिया के कारण निधन हो गया। उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति का किरदार माइकल डोगरास और एनेट बिंग के साथ ‘द अमेरिकन प्रेसिडेंट’ में निभाया था। फ्रेंकस्टीन 28 मई, 1944 को सुन्निंघिल्ल यूनाइटेड किंगडम में पैदा हुए थे।
ii.उन्होंने लायनहार्ट (1990), डेथ बिकॉम्स हर (1992), द इवनिंग स्टार (1996), हेल, सीज़र(2016) में अभिनय किया था।
iii.वह टेक मी होम टुनाइट (2011), द फाइव-इयर एंगेजमेंट (2012) और एंजेल्स ऑन टैप (2018) में दिखाई दिए थे।

पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित भोजपुरी गायक कलाकार, हीरालाल यादव का 93 वर्ष की आयु में वाराणसी में निधन हो गया:Hiralal Yadavi.12 मई को, भोजपुरी गायक, पद्म श्री सम्मानित हीरालाल यादव का लंबी बीमारी के बाद वाराणसी, उत्तर प्रदेश के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 93 वर्ष के थे। वह ‘बिरहा’ शैली के प्रसिद्ध भोजपुरी लोक गायक थे, जो प्रेमी के उसके प्यार के अलग होने की कहानी बताती है।
ii.उन्हें जनवरी 2019 में हमारे देश का चौथा सबसे बड़ा नागरिक पुरस्कार पद्म श्री पुरस्कार मिला।
iii.संगीत के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए, उन्हें वर्ष 2015 में यश भारती पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
iv.उन्होंने प्रकृति पर आधारित गीत गाए। उन्होंने टी-सीरीज़ के साथ कई एल्बम किए हैं जिनमें देवर भाभी की होली, राम भक्त घुरू किसान, चबदा चट्टी पेता, गढ़वत स्वामी सद्गुरु भजन और अन्य शामिल हैं।
उत्तर प्रदेश के बारे में:
♦ राजधानी: लखनऊ
♦ मुख्यमंत्री: योगी आदित्यनाथ
♦ राज्यपाल: राम नाईक
♦ वन्यजीव अभयारण्य: हस्तिनापुर वन्यजीव अभयारण्य
♦ राष्ट्रीय उद्यान: दुधवा राष्ट्रीय उद्यान

IMPORTANT DAYS

12 मई को अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस 2019 मनाया गया:International Nurses Day 2019i.12 मई 2019 को, फ्लोरेंस नाइटिंगेल, जिन्हें ‘द लेडी विद द लैंप’ से जाना जाता था, जो कि क्रीमियन युद्ध के दौरान नर्सों के प्रबंधक और प्रशिक्षक के रूप में प्रसिद्ध थी, की जयंती को मनाने के लिए विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया गया। अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस 2019 के लिए विषय है-‘नर्स – ए वॉयस टू लीड-हेल्थ फॉर आल’
ii.1860 में, नाइटिंगेल ने लंदन में सेंट थॉमस अस्पताल में अपने नर्सिंग स्कूल की स्थापना के साथ पेशेवर नर्सिंग की नींव रखी। यह दुनिया का पहला धर्मनिरपेक्ष नर्सिंग स्कूल था और अब किंग्स कॉलेज लंदन का हिस्सा है।
iii.फ्लोरेंस नाइटिंगेल पदक उच्चतम अंतरराष्ट्रीय सम्मान है जिसे एक नर्स हासिल कर सकती है।
इतिहास:
यूएस डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ, एजुकेशन एंड वेलफेयर के एक अधिकारी डोरोथी सदरलैंड द्वारा 1953 में नर्स दिवस का सुझाव देने के बाद इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्सज (आईसीएन) द्वारा इसे पहली बार 1965 में मनाया गया और पहली बार राष्ट्रपति ड्वाइट डी आइजनहावर द्वारा घोषित किया गया था। जनवरी 1974 में, 12 मई को इस दिवस को मनाने के लिए चुना गया था।

STATE NEWS

अजॉय मेहता को महाराष्ट्र के मुख्य सचिव के रूप में नियुक्त किया गया:Ajoy Mehtai.बृहनमुंबई महानगर पालिका (बीएमसी),जिसे ग्रेटर मुंबई नगर निगम के रूप में भी जाना जाता है, के नगर आयुक्त, अजॉय मेहता (1984-बैच आईएएस- भारतीय प्रशासनिक अधिकारी) को महाराष्ट्र के नए मुख्य सचिव (सीएस) के रूप में नियुक्त किया गया है।
ii.उन्होंने सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले बीएमसी आयुक्त होने का गौरव प्राप्त किया हैं।
iii.मेहता के पूर्ववर्ती यूपीएस मदान (1983 बैच के आईएएस अधिकारी), जिन्होंने केवल 44 दिनों के लिए आयुक्त के पद की सेवा के बाद स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वी.आर.एस.- स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के तहत) ले ली, जिससे वो महाराष्ट्र के सबसे कम समय तक सेवा करने वाला आयुक्त बने है। उनके पास अभी भी पांच महीने की सेवा बाकी थी और उस अवधि के लिए उन्हें एसआईसीओएम (महाराष्ट्र के राज्य औद्योगिक निवेश निगम) के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था और महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़नवीस के विशेष सलाहकार के रूप में भी नियुक्त किया गया था।
iv.1985-बैच के आईएएस अधिकारी- प्रवीण परदेशी (मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के अतिरिक्त मुख्य सचिव) को मुंबई के नए नगरपालिका आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया, जो कि अजॉय मेहता के उत्तराधिकारी है।
v.मेहता सितंबर 2019 में सेवानिवृत्त होंगे।
vi.महाराष्ट्र सरकार के तहत ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव के रूप में मेहता के उल्लेखनीय कार्यों में से एक, राज्य के स्वामित्व वाली महाराष्ट्र राज्य विद्युत बोर्ड का 3 स्वतंत्र कंपनियों में परिवर्तन शामिल हैं जो जनरेशन, ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन के लिए समर्पित थी।