Current Affairs Today in Hindi – June 15 2017

हैलो दोस्तों, www.affairscloud.com में आपका स्वागत है।हम यहां आपके लिए 15 जून ,2017 के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स  को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड, से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते है। हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – June 14 2017

Current Affairs June 15 2017
भारतीय समाचार

हरियाणा में बनेगा डोनाल्ड ट्रम्प के नाम पर “ट्रम्प गाँव “- खुले में शौच से मुक्त गाँव
Haryana's open defecation-free village to be named after Donald Trumpसुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक और प्रमुख बिंदेश्वर पाठक ने घोषणा की है कि मेवात का एक गांव ” धांदूका गांव “ जो खुले में शौच से मुक्त होगा उसका नाम अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के नाम पर रखा जाएगा।
i.उनका मानना है कि इस कदम से भारत के स्वच्छता अभियान की ओर पूरी दुनिया का ध्यान जाएगा।
ii.वर्तमान में सुलभ ‌इंटरनेशनल मेवात के कुछ गांवों को खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए काम कर रहा है।
iii.पाठक ने यह बातें एक कम्यूनिटी इवेंट में वॉशिंगटन (डीसी) में की.

नालंदा विश्वविद्यालय ने दक्षिण कोरिया की एकेडमी ऑफ कोरियन स्टडीज़ के साथ एक समझौता ज्ञापन किया
नालंदा विश्वविद्यालय ने अकादमिकआदान-प्रदान और सहयोग के लिए दक्षिण कोरिया की एकेडमी ऑफ कोरियन स्टडीज़ के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।
i.प्रोफेसर सुनैना सिंह, कुलपति नालंदा विश्वविद्यालय और प्रोफेसर शिन जोंग वोन, उपाध्यक्ष एकेडमी ऑफ कोरियन स्टडीज़ ( ए. के. ऐस) ने पटना में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।
ii.दोनों विश्वविद्यालयों ने द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने के लिए निम्नलिखित क्षेत्रों में एक साथ काम करने के लिए सहमति भरी:
संयुक्त अनुसंधान कार्यक्रम,शिक्षकों और छात्रों का आदान-प्रदान, अकादमिक अनुसंधान और शिक्षा के लिए डेटा और जानकारी का पारस्परिक आदान-प्रदान ,संयुक्त शिक्षण/ कोटूटेल ,समझौता ज्ञापन के उद्देश्य को पूरा करने के लिए अन्य क्षेत्रों में सहयोग,व्याख्यान श्रृंखला.
iii.यह समझौता ज्ञापन आज से पांच साल तक कायम रहेगा ।
दक्षिण कोरिया :
♦ राजधानी: सियोल
♦ मुद्रा: दक्षिण कोरियाई वोन

सघन दस्त‍ के कारण बाल मृत्यु को कम करने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने आईडीसीएफ की शुरूआत की
स्‍वास्‍थ्य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने अतिसार के कारण बच्‍चों की मौत की घटनायें को रोकने के सघन प्रयास के लिए सशक्त दस्‍त नियंत्रण पखवाड़े (आईडीसीएफ) का शुभारंभ किया।
Centre launches IDCF to reduce child deaths due to diarrhea*IDCF- Intensified Diarrhoea Control Fortnight
i.पखवाडे़ के दौरान गांव, जिला और राज्‍य स्‍तर पर स्‍वच्‍छता के लिए गहन समुदाय जागरूकता अभियान और ओआरएस एवं जींक थेरेपी का प्रचार किया जाएगा।
ii.इस कार्यक्रम के अंतर्गत देशभर में 5 वर्ष से कम की आयु के लगभग 12 करोड़ बच्‍चों को शामिल किया जाएगा।
iii.दस्‍त के कारण होने वाली लगभग सभी मौतों को मौखिक पुनर्जलीकरण साल्‍ट के मिश्रण (ओआरएस) और जिंक गोलियों के इस्‍तेमाल द्वारा शरीर में जल की कमी के उपचार के साथ-साथ बच्‍चों को भोजन में पर्याप्‍त पोषक तत्‍व देकर रोका जा सकता है।

अंतरराष्ट्रीय समाचार

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स 2017: भारत 60वें स्थान पर
भारत दुनिया के 130 देशों के हाल ही में जारी की गई नवाचार संबंधित रैकिंग में 6 स्थान ऊपर उठकर 60वें स्थान पर पहुंच गया है। पिछले साल भारत 66वें और 2015 में 82वें स्थान पर था।
i.ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स (जीआईआई) की ताजा रिपोर्ट (जीआईआई-2017) के अनुसार नवाचार के नजरिये से स्वीट्जरलैंड, स्वीडन, नीदरलैंड, अमेरिका, ब्रिटेन शीर्ष पांच देश हैं। इस रैंकिंग में चीन को 22वां स्थान मिला है।
ii.भारत एशिया में नावाचार के दृष्टिकोण से उभरता देश बना है।
ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स 2017 – टॉप 5:

रैंकदेश
1 स्विट्जरलैंड
2स्वीडन
3नीदरलैंड
4संयुक्त राज्य अमेरिका
5 यूनाइटेड किंगडम

2016 में भारत शीर्ष प्रेषण प्राप्तकर्ता देश : संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट
यूएन इंटरनेशनल फंड फॉर एग्रीकल्चर डेवलपमेंट (आईएफ़एडी) ने एक रिपोर्ट में कहा है कि भारत वर्ष 2016 में शीर्ष प्रेषण प्राप्तकर्ता देश रहा है।
i.दुनियाभर में काम कर रहे भारतीयों ने 2016 में 62.7 अरब डॉलर घर भेजा। 2007 से 2016 तक 10 साल की अवधि के दौरान, भारत ने चीन को पीछे छोड़ दिया .
ii.2007 में,चीन के 38.4 अरब डॉलर की तुलना में भारत ने USD 37.2 बिलियन प्राप्त किया था। 2016 में चीन ने 61 अरब डॉलर प्राप्त किए जबकि भारत ने 62.7 अरब डॉलर प्राप्त कर चीन को पीछे छोड़ दिया .

बैंकिंग और वित्त

यस बैंक ने धन हस्तांतरण के लिए “टेरा पे” के साथ भागीदारी की
यस बैंक ने टेरा पे (अंग्रेज़ी:TerraPay) के साथ भागीदारी की है .
i.इसका मुख्य उद्देश्य भारत में बैंक खातों में वास्तविक समय धन हस्तांतरण को सक्षम करना है।
ii.यह उपभोक्ताओं के लिए तेज़ और सुविधाजनक तरीके से किसी भी बैंक खाते में पैसे भेजने के लिए है।
Yes Bank partners with TerraPay for faster international remittanceiii. TerraPay के नेटवर्क भागीदारों को भारत में बैंक खातों से तत्काल सीमा पार मनी ट्रांसफर करने के लिए सक्षम बनाएगा ।
iv.TerraPay के माध्यम से विदेशों में धन भेजने और विदेशों से धन की बैंक खातों में प्राप्ति सरल होगी .
v.Yes बैंक तत्काल भुगतान सेवा का उपयोग करके धन का भुगतान करेगा, जिसे लोकप्रिय आईएमपीएस के रूप में जाना जाता है।
यस बैंक:
♦ सीईओ: राणा कपूर
♦ मुख्यालय: मुंबई
♦ टैगलाइन: हमारी विशेषज्ञता का अनुभव (Experience our Expertise)

4 बैंकों के बाद अब आरबीआई ने सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कारोबार पर लगाया प्रतिबंध
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने तत्काल सुधारात्मक कार्रवाई के तहत सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया को रखा है जिसके तहत बैंक के ऋण देने और शाखा विस्तार योजनाओं और भर्ती पर प्रतिबंध लगा दिया गया है क्योंकि राज्य-शासित ऋणदाता को लगातार दो वित्तीय वर्षो में तनावग्रस्त संम्पति के कारण शुद्ध घाटा हुआ है.
i.इस से पहले आरबीआई ने चार बैंकों के लिए ‘प्रॉम्प्ट करेक्टिव एक्शन’ पीसीए (तत्काल सुधारात्मक कार्रवाई) शुरू किया है
1.आईडीबीआई बैंक
2.यूको बैंक
3.देना बैंक
4.इंडियन ओवरसीज बैंक
ii.भारतीय रिजर्व बैंक ने उच्च डूबत ऋण और संपत्तियों की नकारात्मक रिटर्न के कारण यूको बैंक पर ‘प्रॉम्प्ट कॉक्टिव एक्शन’ (पीसीए) तंत्र लागु किया है.
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया:
♦ मुख्यालय: मुंबई
♦ टैगलाइन: Build A Better Life Around Us (हमारे चारों ओर बेहतर जीवन बनाएं)

इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के लिए AIIB ने 150 मिलियन अमरीकी डालर का ऋण दिया
एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट बैंक (एआईआईबी) के निदेशक मंडल ने इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर फंड में 150 मिलियन इक्विटी निवेश को मंजूरी दी है।
* AIIB- Asian Infrastructure Investment Bank
प्रमुख बिंदु:
i. बैठक दक्षिण कोरिया में जेजू में आयोजित की गई थी।
ii. इंफ्रास्ट्रक्चर फंड का लक्ष्य भारत में मिड-कैप इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनियों में निवेश करना है।
iii.यह पहल वैश्विक दीर्घकालिक निवेशकों से निजी पूंजी प्रवाह को बढ़ाकर स्थानीय बुनियादी ढांचे के विकास को लाभ देगा, जैसे सार्वजनिक पेंशन फंड, एंडोमेंट्स और बीमा कंपनियां .
एआईआईबी:
♦ मुख्यालय: बीजिंग, चीन
♦ प्रेजिडेंट : जिन लीकुन

व्यापार

IOC,BPCL, HPCL ने महाराष्ट्र में दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी स्थापित करने के लिए समझौता किया
महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले में देश के पश्चिमी तट पर छह करोड़ टन रिफाइनिंग क्षमता की दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी बनाने के लिये सार्वजनिक क्षेत्र की प्रमुख कंपनियों इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के बीच संयुक्त उद्यम स्थापना के लिये समझौते पर हस्ताक्षर किये गये.
i.इस रिफाइनरी की स्थापना के लिए कुल लागत 40 अरब डॉलर ( (तीन लाख करोड़ रुपये)होने का अनुमान है.
ii.इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) 50% हिस्सेदारी के साथ प्रमुख भागीदार होगा, जबकि शेष 25 – 25 प्रतिशत हिस्सेदारी हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल)और भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) के पास होगी.
iii.इस रिफाइनरी को अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी वाला बनाया जायेगा और इसमें किसी भी तरह का कच्चा तेल रिफाइन किया जा सकेगा.
iv.छह करोड़ टन सालाना उत्पादन क्षमता वाली यह दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी होगी. पूरी रिफाइनरी में तीन कच्ची इकाइयां शामिल होंगी (प्रत्येक की 2 करोड़ टन की क्षमता)

पाकिस्तान और चार अन्य देशों से रसायन आयात पर भारत ने लगाया एंटी डंपिंग शुल्क
भारत ने जंग नियंत्रण और पेपर ब्लीचिंग के लिए इस्तेमाल में लाए जाने वाले रसायन के पाकिस्तान, बांग्लादेश तथा तीन अन्य देशों से आयात पर प्रति टन 118 डॉलर तक का एंटी डंपिंग शुल्क लगाया है।
i.यह शुल्क इस रसायन के घरेलू निर्माताओं को सस्ते आयात से होने वाले नुकसान से बचाने के लिए लगाया गया है।
ii.राजस्व विभाग ने बांग्लादेश, ताइवान, कोरिया, पाकिस्तान एवं थाईलैंड से हाईड्रोजन पेरॉक्साइड के आयात पर शुल्क लगाते हुए अधिसूचना जारी की है।
iii. इस शुल्क का दायरा 27.81-117.94 प्रति टन है और यह पांच साल तक प्रभावी रहेगा।
♦ इससे पहले नेशनल पेरॉक्साइड लिमिटेड और हिंदुस्तान ऑर्गेनिक केमिकल्स ने एंटी डंपिंग एवं संबद्ध शुल्क महानिदेशालय से संपर्क कर एंटी डंपिंग जांच की मांग की थी .

पुरस्कार

इजरायली लेखक डेविड ग्रॉसमैन ने मैन बुकर पुरस्कार जीता
इजरायली लेखक डेविड ग्रॉसमैन ने अपने नवीनतम उपन्यास ‘ए हार्स वॉक्स इनटू ए बार'(अंग्रेज़ी : ‘A Horse Walks Into a Bar) के लिए लंदन में 2017 का प्रतिष्ठित मैन बुकर इंटरनेशनल पुरस्कार जीता है।
i.पुरस्कार की 50,000 पाउंड (64,000 डॉलर) की राशि का विभाजन बराबर रूप से ग्रॉसमैन और उपन्यास के अनुवादक जेसिका कोहेन में किया जाएगा।
ii.यह पुरस्कार लंदन में 14 जून को घोषित किया गया था।

श्रीधरन को नन्नियोडे राजन मेमोरियल अवार्ड के लिए चुना गया
Sreedharan selected for Nanniyode Rajan awardदिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (डीएमआरसी) के प्रिंसिपल सलाहकार ई. श्रीधरन(मेट्रोमैन) को नन्नियोडे राजन मेमोरियल अवार्ड के लिए चुना गया है।
i. 2008 में स्थापित यह पुरस्कार मिल्मा तिरुवनंतपुरम क्षेत्रीय सहकारी दूध उत्पादक संघ (टीआरसीएमपीयू) द्वारा अपने पूर्व चेयरमैन की याद में स्थापित किया गया है।
ii.देश के विकास में उनके योगदान के लिए पुरस्कार के लिए ‘मेट्रोमैन’ का चयन किया गया है ।
iii.इस पुरस्कार में 25,000 रुपये और एक ट्रॉफी शामिल है।

टीटीएस के रामनाथन रामानन नीति आयोग के तहत अटल मिशन का नेतृत्व करेंगे
निति आयोग ने रामनाथन रमन को अटल इनोवेशन मिशन के मिशन निदेशक के रूप में नियुक्त किया है।
i. रामनाथन वर्तमान में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के साथ काम कर रहे हैं।
TCS executive Ramanathan Ramanan to head Atal Mission under NITI Aayogii.उन्हें “वेतन और भत्ते के बिना” पद पर नियुक्त किया गया है, लेकिन नई दिल्ली में सरकारी आवास के लिए हकदारी के प्रावधान और यात्रा सहित सभी अन्य सरकारी खर्चों के लिए नियुक्त किया गया है।
अटल इनोवेशन मिशन के बारे में
♦ अटल नवाचार मिशन, नवाचार और उद्यमशीलता की संस्कृति को बढ़ावा देने का केंद्र का प्रयास है।
♦ इसका उद्देश्य विश्व स्तर के नवोन्मेष केंद्रों, प्रारम्भिक व्यवसायों और अन्य स्व-रोजगार गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए एक मंच के रूप में सेवा करना है, विशेषकर प्रौद्योगिकी आधारित क्षेत्रों में।

काजल सिंह (गुड्स एंड सवर्सिेज टैक्स नेटवर्क) जीएसटीएन के कार्यकारी उपाध्यक्ष नियुक्त
वरिष्ठ नौकरशाह काजल सिंह को गुड्स एंड सवर्सिेज टैक्स नेटवर्क (जीएसटीएन) का कार्यकारी उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है।
i.जीएसटीएन एक विशेष कंपनी है जो जीएसटी के कार्यान्वयन के लिए सूचना प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचा उपलब्ध करवाएगी।
ii कामर्कि व प्रशिक्षण विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार सिंह की नियुक्ति तीन साल के लिए की गई है.
iii..वे भारतीय राजस्व सेवा के 1992 बैच की वरिष्ठ अधिकारी हैं।

विज्ञान प्रौद्योगिकी

चीन ने ब्लैक होल का अध्ययन करने के लिए अपनी पहली एक्स-रे स्पेस टेलिस्कोप लॉन्च की
China launches its first X-Ray space telescope to study Black holesचीन ने ब्लैक होल के विकास, मजबूत चुंबकीय क्षेत्रों और गामा-रे विस्फोटों के अध्ययन में वैज्ञानिकों की मदद करने के लिए पहले एक्स-रे स्पेस टेलीस्कोप का सफल प्रक्षेपण किया.
i. 2.5 टन वजन वाले हार्ड एक्स-रे मॉड्यूलेशन टेलीस्कोप (एचएक्सएमटी) को ‘इनसाइट’ नाम दिया गया है.
ii.इसे उत्‍तर पश्चिम चीन के गोबी मरस्थल के जियुकुआन उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से मार्च-4बी रॉकेट से पृथ्वी के ऊपर 550 किलोमीटर की कक्षा में प्रक्षेपित किया गया.
iii.टेलीस्कोप के जरिये वैज्ञानिक अंतरिक्षयान नौपरिवहन के लिए पल्सर (अंतरिक्ष में घूर्णन करते न्यूटॉन तारे) के इस्तेमाल के तरीके का अध्ययन और साथ ही गुरुत्‍वाकर्षण तरंगों के अनुरूप होने वाले गामा-रे विस्फोटों का भी पता किया जाएगा.

तेलंगाना ने ऑनलाइन मवेशी बिक्री के लिए ” पशुबज़ार ” वेबसाइट लॉन्च की
तेलंगाना के किसान जल्द ही मवेशी ऑनलाइन बेच और बेच सकेंगे।
i. राज्य सरकार ने इस सेवा की सुविधा के लिए एक वेबसाइट लॉन्च की है।
ii.मवेशियों की ऑनलाइन बिक्री या खरीद pashubazar.telangana.gov.in के माध्यम से होगी,यह वेबसाइट किसानों की मदद करेगी क्योंकि हर बार मवेशियों को लाना ले जाना पड़ता है और किसान मवेशियों पर परिवहन लागत को बचा सकते हैं.
iii.विशेष मुख्य सचिव, पशुपालन, सुरेश चंदा ने NIC’s के सहयोग से विकसित वेबसाइट की शुरुआत की है. Pashu Bazaar प्लेटफार्म विकसित करने के पीछे का कारण किसानों को शारीरिक रूप से साप्ताहिक बाजारों में जानवरों को बेचने ले जाने में सहायता करना है.
iv.किसान किसी भी समय बिक्री के लिए अधिकतम 5 पंजीकरण कर सकते है.
तेलंगाना के बारे में
♦ राजधानी: हैदराबाद
♦ मुख्यमंत्री: के. चंद्रशेखर राव
♦ राज्यपाल: ई.एस.एल. नरसिम्हन

महत्वपूर्ण दिन

विश्व वरिष्ठ दुर्व्यवहार जागरूकता दिवस – 15 जून
World Elder Abuse Awareness Day, 15 June 2015विश्व वरिष्ठ दुर्व्यवहार जागरूकता दिवस (WEAAD) 15 जून को हर साल मनाया जाता है।
i.यह आधिकारिक तौर पर संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा मान्यता प्राप्त है ।
ii.उक्त दिवस के आयोजन का मुख्य उद्देश्य बुजुर्गों के शारीरिक, पारिवारिक, भावनात्मक और आर्थिक दुर्व्यवहार की समस्याओं को केंद्रित करना है। सामाजिक सरोकार की भावना जागृत कर, वृद्धजनों को उनकी उपेक्षा तथा उनपर हो रहे दुर्व्यवहार को रोकना है।

Current Affairs मई 2017 PDF कैप्सूल in Hindi डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

आपका दिन शुभ हो ,आपकी मेहनत रंग लाये और सफलता आपके कदम चूमे .