Current Affairs Today In Hindi – 29 June 2018

हैलो दोस्तों, www.affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 29 जून ,2018  के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स  को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं । हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – 28 June 2018 

राष्ट्रीय समाचार

प्रधानमंत्री एम्स में महत्वपूर्ण परियोजनाओं को समर्पित करेंगे तथा आधारशिला रखेंगे:i.29 जून 2018 को, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) जाएंगे। वह एम्स में वृद्धजनों के लिए राष्ट्रीय केंद्र की आधारशिला रखेंगे।
ii.प्रधान मंत्री ने एम्स और जेएनपीए ट्रामा सेंटर और एम्स में पावर ग्रिड विश्राम सदन के बीच भूमिगत कनेक्टिंग सुरंग के साथ 500 बिस्तरों वाले नए आपातकालीन ब्लॉक और 807 बिस्तर वाले सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक को सफदरजंग अस्पताल में देश को समर्पित किया।
iii.एम्स और जेएनपीए ट्रामा सेंटर के बीच एक भूमिगत कनेक्टिंग सुरंग दोनों केंद्रों के बीच यात्रा समय को 1 किमी कर देगी। इसकी कीमत 44 करोड़ रुपये है।
iv.वैश्विक लक्ष्य से पांच साल पहले सरकार ने टीबी को खत्म करने के लिए भारत के लिए लक्ष्य 2025 निर्धारित किया है। सरकार पोषण सहायता के लिए टीबी रोगियों को 500 रुपये मुहैया करा रही है।

सुरेश प्रभु ने नवीकरणीय ऊर्जा वार्ता – 2018 को संबोधित किया:
i.29 जून 2018 को, केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग तथा नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने कहा कि भारत विश्व की सबसे बड़ी नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता विस्तार की महत्वाकांक्षी योजना पर कार्य कर रहा है। क्षमता विस्तार की इस योजना के पूरे होने पर भारत अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन परियोजना के केंद्र में आ जाएगा।
ii.यह गठबंधन 120 देशों में सौर ऊर्जा के प्रोत्साहन और विकास के लिए कार्य कर रहा है।
iii.नई दिल्ली में नवीकरणीय ऊर्जा वार्ता को संबोधित करते हुए श्री सुरेश प्रभु ने कहा कि भारत ने 2030 तक अपने कुल ऊर्जा उत्पादन का 40 प्रतिशत अजैविक ऊर्जा स्रोत से हासिल करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।
iv.भारत सरकार ने 2022 तक 20 गीगावाट सौर ऊर्जा की स्थापित क्षमता का लक्ष्य निर्धारित किया था। इसे 4 वर्ष पहले ही 2018 में हासिल कर लिया गया है। अब 2022 तक 100 गीगावाट का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

सुरेश प्रभु ने मोबाइल एप ‘रीयूनाईट’ लांच किया:'ReUnite' : Mobile app launched by Suresh Prabhu  to help track and trace missing and abandoned childreni.29 जून 2018 को, केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग तथा नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने एक मोबाइल एप लांच किया। इस एप का नाम ‘रीयूनाईट’ है। यह एप भारत में खोए हुए बच्चों का पता लगाने में सहायता प्रदान करेगा।
ii.इस अवसर पर अपने संबोधन में मंत्री महोदय ने इस एप को विकसित करने के लिए स्वयंसेवी संगठन ‘बचपन बचाओ आंदोलन’ और ‘कैपजेमिनी’ की सराहना की।
iii.इस एप के माध्यम से मातापिता बच्चों की तश्वीरें, बच्चों के विवरण जैसे नाम, पता, जन्म चिन्ह आदि अपलोड कर सकते हैं, पुलिस स्टेशन को रिपोर्ट कर सकते हैं तथा खोए बच्चों की पहचान कर सकते हैं।
iv.खोए हुए बच्चों की पहचान करने के लिए एमेजनरिकोगनिशन, वेब आधारित फेशियल रिगोगनिशन जैसी सेवाओं का उपयोग किया जा रहा है। यह एप एंड्राएड और आईओएस दोनों ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध है।

पंजाब तथा अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में राष्‍ट्रीय सामान्‍य दस्‍तावेज पंजीकरण प्रणाली अपनाई गई:
i.29 जून 2018 को, केंद्रीय ग्रामीण विकास, पंचायती राज और खान मंत्री श्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने नई दिल्‍ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के सभी उप रजिस्‍ट्रार कार्यालयों में राष्‍ट्रीय सामान्‍य दस्‍तावेज पंजीकरण प्रणाली (एनजीडीआरएस) का उद्घाटन किया।
ii.भाषाओं, प्रक्रियाओं, सूत्रों और प्रारूपों के कारण राज्‍य में प्रचलित विविधता और वि‍भिन्‍नताओं का उचित समाधान निकालने के लिए भू-संसाधन विभाग ने राष्‍ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) के जरिए राष्‍ट्रीय सामान्‍य दस्‍तावेज पंजीकरण प्रणाली (एनजीडीआरएस) विकसित की है, जिसमें सभी राज्‍यों की जरूरतों को शामिल किया गया है।
iii.उद्घाटन करने के बाद श्री तोमर ने कहा कि इसे पूरे देश में अपना लिए जाने पर इस सामान्‍य व्‍यापक सॉफ्वेयर से आम जन और कार्यान्‍वयन तथा नियामक एजेंसियां ‘कहीं भी’ आंकड़े और जानकारी हासिल कर सकेंगे। उन्‍होंने कहा कि डिजीटल तरीके से पंजीकरण कराने से पार‍दर्शिता भी बढ़ेगी और लोग बगैर किसी परेशानी के लाभान्वित होंगे।

ओडिशा सरकार ने बिजू स्वास्थ्य कल्याण योजना (बीएसकेवाई) के तहत महिलाओं के लिए स्वास्थ्य कवर बढ़ाकर 7 लाख रुपये किया:Odisha government increases health cover for women from to Rs 7 lakh under the Biju Swasthya Kalyana Yojana (BSKY)i.27 जून 2018 को, उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि प्रति वर्ष सभी महिला परिवारों के लिए स्वास्थ्य आश्वासन कवर बिजू स्वास्थ्य कल्याण योजना (बीएसकेवाई) के तहत 5 लाख से बढ़ाकर 7 लाख रुपये कर दिया जाएगा।
ii.घोषणा भुवनेश्वर में ‘अमा गाँव अमा बिकाश’ कार्यक्रम पर एक बैठक में की गई थी।
iii.12 जून 2018 को, नवीन पटनायक ने बीजू स्वास्थ्य कल्याण योजना की घोषणा की। यह ओडिशा में लगभग 70 लाख परिवारों के लिए 5 लाख रुपये के लिए स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं का आश्वासन देती है।
iv.नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) की निदेशक शालिनी पंडित ने कहा कि यदि कोई परिवार 5 लाख रुपये का उपयोग करता है और फिर महिला सदस्य बीमार बीमार होता है, तो महिला को 2 लाख रुपये का अतिरिक्त कवरेज मिलेगा। इसके अलावा, सभी महिला परिवार 7 लाख कवरेज का लाभ उठा सकते हैं।

मध्यप्रदेश को मातृ मृत्यु दर को कम करने के लिए सम्मानित किया जाएगा:Madhya Pradesh to be awarded for reducing maternal mortalityi.29 जून 2018 को, मध्य प्रदेश को प्रधान मंत्री के सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत मातृ मृत्यु दर को कम करने के लिए सम्मानित किया जाएगा।
ii.केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री, जगत प्रकाश नड्डा ने मध्य प्रदेश के लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री रुस्तम सिंह को पुरस्कार समारोह के लिए आमंत्रित किया है जो 29 जून 2018 को आयोजित किया जाएगा।
iii.प्रसव से पहले भारत में 3 करोड़ से अधिक गर्भवती महिलाओं की देखभाल सुनिश्चित करने के लिए प्रधान मंत्री का सुरक्षित मातृत्व अभियान शुरू किया गया था।
iv.मध्य प्रदेश में मातृ मृत्यु में 48 अंकों की गिरावट भारत के रजिस्ट्रार जनरल में 2014 से 2016 तक पंजीकृत है।

हरियाणा सरकार मजदूरों के लिए 5 और रियायती कैंटीन शुरू करेगी: नायब सिंह सैनी
i.श्रम और रोजगार राज्य मंत्री नयाब सिंह सैनी ने कहा कि हरियाणा सरकार हरियाणा में 10 रुपये में मजदूरों को भोजन देने के लिए 5 और रियायती कैंटीन लॉन्च करेगी।
ii.पंचकुला, अंबाला, पानीपत, करनाल और भिवानी में रियायती कैंटीन खोले जाएंगे।
iii.वर्तमान में, सोनीपत, गुड़गांव, यमुनानगर, फरीदाबाद और हिसार जिलों में रियायती कैंटीन मौजूद हैं।

पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री द्वारा एमएकेएयूटी के प्लेसमेंट पोर्टल का उद्घाटन किया गया:
i.29 जून, 2018 को, मौलाना अबुल कलाम आजाद यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (एमएकेएयूटी) ने छात्रों के लिए उचित प्लेसमेंट ऑफर प्राप्त करने में सहायता के लिए संबद्ध कॉलेजों के स्नातकों के लिए एक प्लेसमेंट पोर्टल लॉन्च किया।
ii.इसे पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने लॉन्च किया था।
iii.इसमें मौलाना अबुल कलाम आजाद यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी विश्वविद्यालय के तहत 196 संबद्ध कॉलेजों के छात्रों के बारे में जानकारी शामिल है।
iv.पोर्टल कंपनियों को नियुक्ति या इंटर्नशिप के अवसरों को पोस्ट करने में सक्षम बनाएगा।

इंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलपमेंट सर्विसेज – कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (आईसीडीएस-सीएएस) ऐप के उन्नयन के लिए नास्कॉम और डब्ल्यूसीडी मंत्रालय के बीच हस्ताक्षर किए गए:
i.29 जून, 2018 को, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय अपने पोषण निगरानी ऐप, इंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलपमेंट सर्विसेज – कॉमन एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (आईसीडीएस-सीएएस) को औरबेहतर बनाने के लिए नास्कॉम के साथ सहयोग करेगा।
ii.नास्कॉम ने ऐप को और बेहतर बनाने में मंत्रालय के साथ समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए।
iii.ऐप के पुनर्विकास की दिशा में योगदान देने और पोषण अभियान की सफलता के लिए इसे सुधारने में अपनी विशेषज्ञ राय देने में आईटी उद्योग के सहयोग की आवश्यकता है।

अंतरराष्ट्रीय समाचार

यूएस स्टेट डिपार्टमेंट ने उत्तरी कोरिया को ‘2018 ट्रैफिकिंग इन पर्सन रिपोर्ट’ में ‘सबसे खराब मानव तस्करी देश’ के रूप में नामित किया:
i.29 जून, 2018 को, अमेरिकी विदेश विभाग ने सीधे 16 वे साल के लिए उत्तर कोरिया को ‘सबसे खराब मानव तस्करी देश’ में से एक के रूप में वर्गीकृत किया, इसने ‘2018 ट्रैफिकिंग इन पर्सन रिपोर्ट’ में मजबूर श्रम के उपयोग का हवाला दिया।
ii.उत्तरी कोरिया को टायर 3 श्रेणी में शामिल किया गया है, जो चीन, रूस और ईरान के साथ सबसे कम रैंकिंग है।
iii.उत्तरी कोरियाई सरकार जेल शिविरों और श्रम प्रशिक्षण केंद्रों में मजबूर श्रम का उपयोग करती है।
iv.दक्षिण कोरिया को उच्चतम श्रेणी में स्थान दिया गया है, जो कि अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस और कनाडा के साथ लगातार 16 वें वर्ष के लिए टायर 1 देशों की सूची में है।
v.अमेरिकी मानकों का अनुपालन करने में महत्वपूर्ण प्रयास करने के लिए भारत को टायर 2 श्रेणी में रखा गया है। हालांकि, भारत तस्करी के उन्मूलन के लिए न्यूनतम मानकों को पूरा नहीं करता है।

शीर्ष 100 वैश्विक कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 15% बढ़ कर 20 ट्रिलियन अमरीकी डॉलर तक पहुंच गया: पीडब्ल्यूसी की ग्लोबल टॉप 100 रैंकिंग
i.29 जून, 2018 को, पीडब्ल्यूसी की ग्लोबल टॉप 100 रैंकिंग के मुताबिक शीर्ष 100 वैश्विक कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 15 फीसदी बढ़कर 20 ट्रिलियन हो गया है, अमेरिका ने 54 कंपनियों के साथ अग्रणी स्थिति बरकरार रखी है।
ii.सूची में से शीर्ष 10 निम्नानुसार हैं:
कंपनी                       बढ़ी हुई राशि                                   देश
अमेज़ॅन                    278 मिलियन                           संयुक्त राज्य अमेरिका
टेंसेंट                       224 मिलियन                                   चीन
अलीबाबा                 201 मिलियन                                    चीन
माइक्रोसॉफ्ट                                                       संयुक्त राज्य अमेरिका
अल्फाबेट                                                          संयुक्त राज्य अमेरिका
एप्पल                                                              संयुक्त राज्य अमेरिका
पिंग एन इंसुरेंस           90 मिलियन
आईसीबीसी               89 मिलियन
बोइंग                     85 मिलियन
बर्कशायर हैथवे           81 मिलियन

iii.लगातार चौथे वर्ष में, अमेरिका शीर्ष 100 में से आधे से अधिक (54 कंपनियां, 2017 में 55 ) स्थान पर हैं। इसका कुल बाजार पूंजीकरण का 61 प्रतिशत भी है, जो पिछले साल 63 प्रतिशत से कम है।
iv.वैश्विक शीर्ष तीन अभी भी प्रौद्योगिकी कंपनियां हैं – ऐप्पल, अल्फाबेट, माइक्रोसॉफ्ट – इसके बाद पांचवें स्थान पर टेनेंट और आठवें स्थान पर फेसबुक है।

व्यापार और अर्थव्यवस्था

भेल ने उत्सर्जन नियंत्रण उपकरण के लिए कोरियाई फर्म नैनो के साथ समझौता किया:BHEL inks pact with Korean firm NANO for emission controlling equipmenti.28 जून 2018 को, भेल (भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड) ने कहा कि, उसने कोयला आधारित बिजली संयंत्रों में उत्सर्जन नियंत्रण उपकरणों के डिजाइन और निर्माण के लिए दक्षिण कोरियाई फर्म नैनो कंपनी लिमिटेड के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।
ii.यह समझौता भेल उत्सर्जन नियंत्रण प्रणाली (डी-एनओएक्स अनुप्रयोगों) के लिए इसकी सेवाओं में सुधार करने में मदद करेगा।
iii.नैनो एससीआर उत्प्रेरक और संबंधित कच्चे माल का निर्माता है। यह जर्मनी, फ्रांस, इटली, चीन और ताइवान जैसे कई देशों में उत्प्रेरक की आपूर्ति करता है।

आरआरवीयूएनएल को राज्य के स्वामित्व वाली पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन (पीएफसी) से 2626 करोड़ रुपये की अतिरिक्त वित्तीय सहायता मिली:
i.29 जून, 2018 को, राज्य के स्वामित्व वाली पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन ने राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम (आरआरवीयूएनएल) को नए उत्सर्जन मानदंड को पूरा करने के लिए 2,626 करोड़ रुपये की अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान की है।
ii.वित्तीय सहायता से पर्यावरण और वन मंत्रालय के नए उत्सर्जन मानदंडों का अनुपालन करने के लिए इसके प्रयासों का समर्थन करना है।
iii.यह मुख्य रूप से सूरतगढ़ और छाबरा में चल रहे सुपर-क्रिटिकल थर्मल पावर प्रोजेक्ट्स में पर्यावरणीय उन्नयन कार्यों के हिस्से के रूप में फ्लू गैस डिसेल्फुराइज़ेशन प्लांट (एफजीडी) और सिलेक्टिव कैटलिटिक रिएक्टर (एससीआर) की स्थापना के लिए है, जिसमें प्रत्येक की 2×660 मेगावॉट क्षमता है।
iv.इसके साथ-साथ दो परियोजनाओं के लिए पीएफसी की संचयी मंजूरी 10,218 करोड़ रुपये है।

पुरस्कार और सम्मान

‘सबसे बेहतर अधिकार क्षेत्र’ के लिए वैश्विक पुनर्गठन समीक्षा का पुरस्कार बेहतर दिवालियापन और पुनर्गठन शासन के लिए भारत को मिला:Global Restructuring Review’s award for "most improved jurisdiction" goes to India for improved insolvency and restructuring regimei.29 जून, 2018 को, भारतीय दिवाला एवं दिवालियापन बोर्ड (आईबीबीआई) ने घोषणा की कि भारत ने ग्लोबल रीस्ट्रक्चरिंग रिव्यू के ‘सबसे बेहतर क्षेत्राधिकार’ का पुरस्कार जीता हैं।
ii.यह पुरस्कार क्षेत्राधिकार का सम्मान करता है जिसने पिछले वर्ष के दौरान अपने पुनर्गठन और दिवालियापन में सुधार किया है।
iii.2017 में, यह ख़िताब सिंगापुर को मिला था।

मोंटी राजखोवा पहली असमिया जिन्होंने माउंट कंचनजंगा की चढ़ाई की:
i.मोंटी राजखोवा दुनिया के तीसरे सबसे ऊँचे पहाड़ माउंट कंचनजंगा को चढ़ने वाली पहली असमिया बन गई है।
ii.मोंटी राजखोवा मुंबई में स्थित तेल और प्राकृतिक गैस निगम (ओएनजीसी) के एक कार्यकारी अभियंता है।
iii.पहाड़ माउंट कंचनजंगा को चढ़ने वाली वह पहली महिला ओएनजीसी अधिकारी भी बन गई हैं।
iv.केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने अप्रैल 2018 में ओएनजीसी कंचनजंगा अभियान को ध्वजांकित किया था।

नियुक्तियां और इस्तीफे

आईसीआईसीआई बैंक ने पूर्व-आईएएस जी सी चतुर्वेदी को गैर-कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया:ICICI Bank appoints ex-IAS G C Chaturvedi as non-executive chairmani.29 जून 2018 को, आईसीआईसीआई बैंक ने कहा कि, उसने गिरीश चंद्र चतुर्वेदी को कंपनी का गैर-कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है।
ii.जी सी चतुर्वेदी एक पूर्व पेट्रोलियम सचिव हैं। गैर-कार्यकारी अध्यक्ष एम के शर्मा का कार्यकाल 30 जून 2018 को समाप्त होगा।
iii.जी सी चतुर्वेदी की नियुक्ति 1 जुलाई 2018 से 3 साल की अवधि के लिए प्रभावी है। उनकी नियुक्ति शेयरधारकों की मंजूरी के अधीन है।

आईसीआईसीआई बैंक वॉकर चंदियोक एंड कंपनी को लेखा परीक्षकों के रूप में नियुक्त किया:
28 जून 2018 को, आईसीआईसीआई बैंक ने कहा कि, उसने वॉकर चंदियोक एंड कंपनी को बैंक के सांविधिक लेखा परीक्षकों के रूप में नियुक्त किया है।
ii.बी एस आर एंड कंपनी एलएलपी, चार्टर्ड एकाउंटेंट्स, पिछले 4 वर्षों से आईसीआईसीआई बैंक के सांविधिक लेखा परीक्षकों को आरबीआई दिशानिर्देशों के अनुसार लगातार 4 वर्षों की अधिकतम अवधि पूरी होने पर 24 वीं वार्षिक आम बैठक के समापन पर सेवानिवृत्त किया जाएगा।
iii.आईसीआईसीआई बोर्ड ने 27 जून 2018 को आयोजित बोर्ड मीटिंग में 31 मार्च 2019 को समाप्त वर्ष के लिए वॉकर चंदियोक एंड कंपनी की वैधानिक लेखा परीक्षकों के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी।

रवि थापर को समसामयिक रूप से कोस्टा रिका गणराज्य में भारत का अगला राजदूत नियुक्त किया गया:
i.कोस्टा रिका गणराज्य में रवि थापर को भारत का अगला राजदूत नियुक्त किया गया है।
ii.रवि थापर 1983 बैच के एक भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) अधिकारी हैं। वर्तमान में, वह पनामा में भारत के राजदूत हैं।
iii.उन्हें कोस्टा रिका गणराज्य में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है। वह जल्द ही नया कार्यभार संभालेगे।

पर्यावरण

विश्व बैंक का कहना है कि जलवायु परिवर्तन से भारत को सकल घरेलू उत्पाद का 2.8% नुक्सान होगा:Climate change may cost India 2.8% of GDP, says World Banki.28 जून 2018 को, ‘दक्षिण एशिया के हॉटस्पॉट्स: तापमान और वर्षा परिवर्तन का जीवन मानको पर प्रभाव’ नामक एक विश्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि जलवायु परिवर्तन से भारत को सकल घरेलू उत्पाद का 2.8% नुक्सान होगा।
ii.रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि, जलवायु परिवर्तन 2050 तक भारत की आबादी के आधे हिस्से के जीवन स्तर को प्रभावित कर सकता है।
iii.तीन दशकों में औसत वार्षिक तापमान में 1-2% की वृद्धि होने की उम्मीद है।
iv.यदि कोई उपाय नहीं किया जाता है, तो भारत में औसत तापमान 1.5-3 डिग्री बढ़ जाएगा।

महत्वपूर्ण दिन

अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस – 29 जून:
i.29 जून 2018 को, दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस मनाया गया था।
ii.29 जून 2014 को, आंग सान सू की ने उष्णकटिबंधीय रिपोर्ट की पहली स्थिति लॉन्च की थी। अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस रिपोर्ट के लॉन्च की सालगिरह है।
iii.2016 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 29 जून को अंतर्राष्ट्रीय उष्णकटिबंधीय दिवस के रूप में घोषित किया था।

दिशा सप्ताह 25 से 29 जून तक मनाया जा रहा है:
i.25 से 29 जून 2018 तक, जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति के 2 वर्षों के पूरा होने पर दिशा सप्ताह मनाया जाता है।
ii.28 जून 2018 को केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कुछ सांसदों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ नई दिल्ली में दिशा पहल पर चर्चा की।
iii.छत्तीसगढ़, झारखंड, केरल, मिजोरम और उत्तराखंड में दिशा सभाओं के नियमित संगठन में उल्लेखनीय काम के लिए सराहना के पुरस्कार दिए गए थे।

आईएसआई, कोलकाता में प्रोफेसर पी सी महलानोबिस के 125 वें जन्मदिन पर 12 जून, 2018 को 12 वा सांख्यिकी दिवस राष्ट्रीय रूप से मनाया जा रहा है:12th Statistics Day is being celebrated nationally on June 29, 2018 commemorating 125th birthday of Prof. P. C. Mahalanobis at ISI, Kolkatai.29 जून, 2017 को प्रोफेसर पी सी महालानोबिस की जयंती के आरंभ के रूप में मनाया गया। भारतीय सांख्यिकी संस्‍थान (आईएसआई) ने वर्ष भर चलने वाले समारोहों का आयोजन किया है जिसका समापन 29 जून, 2018 को होगा।
ii.समारोह के मुख्य अतिथि श्री एम वेंकैया नायडू, भारत के उपराष्ट्रपति थे।
iii.इस दिवस को मनाने का उद्वेश्‍य सामाजिक-आर्थिक योजना निर्माण एवं नीति निर्माण सांख्यिकी के महत्‍व के बारे में जागरुकता पैदा करना, प्रोफेसर पी सी महालानोबिस के योगदान को सम्‍मानित करना और उन्‍हें श्रद्धांजलि अर्पित करना है।
iv.इस अवसर पर, उपराष्‍ट्रपति प्रोफेसर पी सी महालानोबिस के सम्‍मान में 125 रुपये का एक स्‍मारक सिक्‍का तथा पांच रुपये का एक वितरण सिक्‍का भी जारी करेंगे। प्रो. पी वी सुखात्‍मे पुरस्‍कार 2018 एवं प्रो. सी आर राव पुरस्‍कार 2017 के विजेताओं को भी सांख्यिकी के क्षेत्र में उनके उल्‍लेखनीय योगदान के लिए सम्‍मानित किया जाएगा।