Current Affairs Today In Hindi – 4 June 2018

हैलो दोस्तों, www.affairscloud.com में आपका स्वागत है। हम यहां आपके लिए 4 जून ,2018  के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स  को विभिन्न अख़बारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, पीआईबी, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडिया टुडे, इंडियन एक्सप्रेस, बिजनेस स्टैंडर्ड,जागरण से चुन करके एक अनूठे रूप में पेश करते हैं । हमारे Current Affairs से आपको बैंकिंग, बीमा, यूपीएससी, एसएससी, सीएलएटी, रेलवे और अन्य सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Click here to Read Current Affairs Today in Hindi – 3 June 2018 

राष्ट्रीय समाचार

ताजमहल की 500 मीटर त्रिज्या के आसपास ताजमहल परिसर को साफ करने के लिए अपनाया गया ‘ताजमहल घोषणापत्र’:
i.4 जून, 2018 को विश्व पर्यावरण दिवस को 5 जून को दुनिया भर में मनाया जाता है और इस वर्ष इसका समर्थन करने के लिए केंद्रीय संस्कृति और पर्यावरण मंत्री श्री महेश शर्मा ने ‘ताजमहल घोषणापत्र’ की घोषणा की।
ii.ताजमहल घोषणापत्र को ‘ताज डिक्लेरेशन टू बीट प्‍लास्टिक पॉल्‍यूशन’ कहा गया है।
iii.इस घोषणापत्र के तहत, आगरा के निवासियों ने ताजमहल के चारों ओर 500 मीटर तक और आसपास के इलाकों में पॉलिथिन और प्लास्टिक उत्पादों के उपयोग को कम करने के प्रति वचनबद्धता लेंगे।
iv.यह निर्णय केंद्र और राज्य सरकार द्वारा लिया गया था और देश भर में 100 ‘आदर्श’ स्मारकों पर लागू होता है।
v.यूएन पर्यावरण कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक एरिक सोलहम और संयुक्त राष्ट्र सद्भावना राजदूत और अभिनेत्री दीया मिर्जा की उपस्थिति में प्रतिज्ञा ली गई थी।
vi.इस घोषणा से पहले एक ‘स्वच्छ यमुना कार्यक्रम’ था।

स्वच्छ और पर्यावरण के अनुकूल होने के लिए प्रतिष्ठित ब्लू फ्लैग प्रमाणन प्राप्त करेंगे 13 भारतीय समुद्र तट:13 Indian beaches to get prestigious Blue Flag certification for being clean & environment-friendly ; first time in Asia.i.4 जून, 2018 को, 13 समुद्र तटों को स्वच्छ और पर्यावरण अनुकूल होने के लिए ब्लू फ्लैग प्रमाणीकरण दिया जाएगा। विश्व पर्यावरण दिवस से पहले पांच दिवसीय सम्मेलन में सोसाइटी फॉर इन्टिग्रेटेड कोस्टल मैनेजमेंट के प्रोजेक्ट हेड श्री अरविंद नौटियाल ने इसकी घोषणा की थी।
ii.इसका उद्देश्य समुद्र तटों को पर्यावरण के अनुकूल, स्वच्छ और पर्यटकों को सुविधाओं को उपलब्ध कराना है।
iii.13 समुद्र तट जिन्हे ब्लू फ्लैग प्रमाणीकरण दिया जाएगा वो है: ओडिशा का चंद्र भागा समुद्र तट (सबसे पहले ब्लू फ्लैग प्रमाणीकरण पाने वाला), कोनारक तट, महाराष्ट्र का चिवला और भोगवे समुद्र तट, पुडुचेरी, गोवा, दमन और दीव, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह से एक एक समुद्र तट।
iv.भारतीय समुद्र तटों को सोसाइटी फॉर इन्टिग्रेटेड कोस्टल मैनेजमेंट द्वारा विकसित किया जा रहा है, जो एक पर्यावरण मंत्रालय की इकाई है जो तटीय क्षेत्रों के प्रबंधन के लिए काम कर रही है।
v.इस परियोजना के दो मुख्य उद्देश्य हैं- सबसे पहले भारतीय समुद्र तटों में बढ़ते प्रदूषण और कचरे की सफाई करके जलीय आवास में सुधार करना है। दूसरा, निरंतर प्रगति और पर्यटन सुविधाओं के विकास के साथ पारिस्थितिकीय पर्यटन विकसित करना है।
vi.वर्तमान में एशिया में कोई ब्लू फ्लैग समुद्र तट नहीं है।
ब्लू फ्लैग प्रोग्राम के बारे में:
ब्लू फ्लैग तट मानक को 1985 में कोपेनहेगन स्थित फाउंडेशन फॉर एनवायरनमेंटल एजुकेशन (एफईई) द्वारा स्थापित किया गया था। ब्लू फ्लैग प्रोग्राम, जिसमें समुद्र तट को पर्यावरण अनुकूल बनाने के लिए चार क्षेत्रों में 33 मानकों की आवश्यकता होती है, यह पेरिस से शुरू हुआ था।

कृषि कल्याण अभियान: 25 गांवों में सर्वोत्तम कृषि पद्धतियों और किसानों की आय को दुगना करने में देगा बढ़ावाRs 5400 crore dispersed for Telangana government’s scheme ‘Rythu Bandhu’: RBIi.4 जून, 2018 को, कृषि मंत्रालय ने 1 जून 2018 से 31 जुलाई 2018 तक ‘कृषि कल्याण अभियान’ की शुरुआत की घोषणा की।
ii.इसका उद्देश्य किसानों को उनकी कृषि तकनीक में सुधार करने, मदद करने, सलाह देने, और उनकी आय बढ़ाने में सहायता करना है।
iii.यह 2022 तक किसानों की आमदनी को दोगुना करने के प्रधान मंत्री मोदी के दृष्टिकोण के अनुरूप है।
iv.नीति आयोग की सहायता से ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा पहचाने जाने वाले महत्वाकांक्षी जिलों में कृषि कल्याण अभियान 25 गांवों (1000 से अधिक आबादी के साथ) में शुरू होगा।
v.जिले के 25 गांवों में समग्र समन्वय और कार्यान्वयन प्रत्येक जिले के प्रभारी 111 अधिकारियों की नियुक्ति करके उस जिले के कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा किया जा रहा है।

427 गंगा प्राहारी 5 राज्यों के बीच गंगा नदी की जलीय प्रजातियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जैव-विविधता संरक्षण को बढ़ावा देंगे:
i.4 जून, 2018 को, 427 प्रशिक्षित स्वयंसेवकों के एक स्वयंसेवक कार्यबल को जैव विविधता को बढ़ावा देने और गंगा नदी के साथ राज्यों के बीच जागरूकता बढ़ाने का कार्य दिया गया है।
ii.इसका उद्देश्य गंगा नदी की जलीय प्रजातियों की जैव विविधता की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लोगो को शिक्षित, प्रेरित करना है।
iii.इस समूह को ‘गंगा प्राहारी’ कहा जाता है।
iv.वे उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, झारखंड, बिहार और पश्चिम बंगाल के राज्यों में फैले गंगा बेसिन में काम करेंगे।
v.वाराणसी (रामपुर, तांतेपुर और ढक्का) के आसपास के गांवों में तीन आजीविका केंद्र स्थापित किए गए हैं। गंगा प्राहरियों को विशेष रूप से महिलाओं को इन केंद्रों में प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
vi.210 संवेदनशीलता कार्यक्रमों के आसपास, गांव स्तरीय बैठक प्रशिक्षण और कार्यशालाएं आयोजित की गई हैं।

राज्य पर्यावरण मंत्रिपरिषद का उद्घाटन:State Environment Ministers Conference Inauguratedi.4 जून 2018 को, विश्व पर्यावरण दिवस के लिए राज्य पर्यावरण मंत्रिपरिषद सम्मेलन नई दिल्ली में आयोजित किया गया था।
ii.पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री, डॉ हर्षवर्धन ने सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि, 25,000 टन प्लास्टिक कचरा हर दिन उत्पन्न होता है।
iii.इस अवसर पर पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के वन विभाग में महानिदेशक और विशेष सचिव श्री सिद्धांत दास, मंत्रालय में अपर सचिव श्री ए के जैन, मंत्रालय और अन्‍य मंत्रालयों/विभागों के वरिष्‍ठ अधिकारी और अधिकारी तथा संयुक्‍त राष्‍ट्र पर्यावरण के प्रतिनिधि, राज्‍य के पर्यावरण मंत्रियों के साथ ही राज्‍य सरकारों के वरिष्‍ठ अधिकारी और अधिकारी उपस्थित थे।।
iv.उद्घाटन समारोह के दौरान वर्गीकरण विज्ञान पर ई.के.जानकी अम्‍मल राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार भी प्रदान किए गए। पुरस्‍कार के तौर पर 5 लाख रूपये नकद, एक स्‍क्रॉल और पदक प्रदान किए गए। निम्‍नलिखित व्‍यक्तियों को पुरस्‍कार प्रदान किए गए:
1.वनस्‍पति वर्गीकरण के लिए डॉ.एस आर यादव
2.प्राणी वर्गीकरण के लिए डॉ. पी टी चेरियन
3.माइक्रोबियल वर्गीकरण के लिए डॉ. एस शिवाजी
v.इस अवसर पर डॉ. हर्षवर्धन, डॉ. महेश शर्मा और अन्‍य गणमान्‍यों ने राज्‍य पर्यावरण रिपोर्ट 2015 का विमोचन भी किया।
vi.नेशनल ज्योग्राफिक की प्लास्टिक रैपर-मुक्त पत्रिका की पहल हर महीने 2.5 मिलियन से अधिक एकल उपयोग प्लास्टिक बैग बचाएगी।

श्री राजेन गोहेन ने संतरागाछी-चेन्‍नई सेंट्रल अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस को झंडी दिखाकर रवाना किया:International Day of Innocent Children Victims of Aggression - 4 Junei.4 जून 2018 को, रेल राज्‍य मंत्री श्री राजेन गोहेन ने कोलकाता में 22841/22842 संतरागाछी-चेन्‍नई सेंट्रल अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस (साप्‍ताहिक) को झंडी दिखाकर रवाना किया।
ii.अंत्‍योदय एक्‍सप्रेस के कोच पूरी तरह अनारक्षित एलएचबी द्वितीय श्रेणी के कोच हैं। अतिरिक्‍त सुविधाएं निम्‍नलिखित हैं:
-सामान रखने के लिए कुशन वाले रैक जिनका इस्‍तेमाल बैठने के लिए भी किया जा सकता है
-कोच के दरवाजों के निकट अतिरिक्‍त हैंड होल्‍ड
-सामान वाले रैक में जे-हुक की व्‍यवस्‍था
-कोच के दोनों किनारों पर बहु इकाई केबल
-यात्रियों के आंतरिक आवागमन के लिए दोनों किनारों पर अतिरिक्‍त जगह
-पेय जल डिस्‍पेंशन
-मोबाइल चार्ज करने की सुविधाएं
-अग्‍निशामक यंत्र
-एफआरपी (फाइबर से मजबूत बनाया गया प्‍लास्‍टिक) मॉड्यूलर शौचालय
-आंतरिक भाग में बेहतरीन रंग व्‍यवस्‍था
-शौचालय के बाहर डिसप्‍ले बोर्ड
-एलईडी लाइटें
-फिसलन मुक्‍त फर्श
iii.ट्रेन द्वारा तय की गई एक तरफ़ा दूरी 1656 किमी है।
पश्चिम बंगाल में कुछ महत्वपूर्ण राष्ट्रीय उद्यान:
♦ सिंगलिला राष्ट्रीय उद्यान
♦ सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान
♦ गोरुमारा राष्ट्रीय उद्यान

2015 में भारत का वन क्षेत्र 21.34 प्रतिशत रहा: रिपोर्ट
i.4 जून 2018 को केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने नई दिल्ली में आयोजित राज्य पर्यावरण मंत्रिपरिषद सम्मेलन में ‘पर्यावरण की स्थिति की रिपोर्ट , भारत 2015’ जारी की, जिसके अनुसार भारत में वन क्षेत्र 2015 में 21.34% था।
ii.वन और पेड़ संयुक्त रूप से भारत के भौगोलिक क्षेत्र में लगभग 24.16% का योगदान करते हैं।
iii.भारत में वन सर्वेक्षण (एफएसआई) के हालिया अनुमान के मुताबिक, 2015 में वन क्षेत्र भारत के कुल भौगोलिक क्षेत्र का 21.34% था। यह 2009 में 20.05% था इसमें 1.29% की वृद्धि हुई है।
iv.मिजोरम में भारत के अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की तुलना में 89% उच्चतम वन क्षेत्र है।
v.इसके बाद लक्षद्वीप (84.56%), अंडमान और निकोबार द्वीप समूह (82%), अरुणाचल प्रदेश (80%) है।
vi.असम में सबसे कम वन कवर है जिसमें सूचीबद्ध 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) में 35% वन क्षेत्र शामिल है।
vii.भारत का वन क्षेत्र 2010 में 692,027 वर्ग किलोमीटर से बढ़कर 2015 में 701,673 वर्ग किलोमीटर हो गया है।
viii.पहाड़ी राज्यों में वन क्षेत्र में कुल वृद्धि देखी गई है। पूर्वोत्तर राज्य भारत के वन क्षेत्र का चौथे हिस्से का योगदान करते हैं।
भारत के वन सर्वेक्षण के बारे में (एफएसआई):
♦ मंत्रालय – पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय
♦ स्थापित – 1981

वाणिज्य मंत्रालय ने टीआईईएस के तहत निर्यात बुनियादी ढांचे के लिए 15 परियोजनाओं को मंजूरी दी:
i.4 जून 2018 को, निर्यात को बढ़ावा देने और बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए वाणिज्य मंत्रालय ने निर्यात के लिए व्यापार बुनियादी ढांचा योजना (टीआईईएस) के तहत 15 परियोजनाओं को मंजूरी दे दी है।
ii.2017 में वाणिज्य मंत्रालय ने केंद्रीय या राज्य एजेंसियों के सहभागिता द्वारा निर्यात के विकास के लिए आवश्यक आधारभूत संरचना बनाने के उद्देश्य से निर्यात के लिए व्यापार बुनियादी ढांचा योजना शुरू की थी।
iii.कुल योजना परिव्यय 600 करोड़ रुपये है। 2017-18 में इसके लिए 80 करोड़ रुपये प्रदान किए गए थे। चालू वित्त वर्ष के दौरान 80 करोड़ रुपये की पेशकश की जाएगी।
iv.यह योजना 2020 तक तीन साल तक के लिए लॉन्च की गई है। कुछ स्वीकृत परियोजनाएं हैं:
-इम्फाल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक एकीकृत कार्गो टर्मिनल की स्थापना
-भोपाल में व्यापार संवर्धन केंद्र की स्थापना
-नोएडा एसईजेड में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन प्रणाली
-विशाखापत्तनम में निर्यात निरीक्षण एजेंसी के कार्यालय सह प्रयोगशाला परिसर का निर्माण
-मध्यप्रदेश में कोल्ड चैन की स्थापना
v.टीआईएस के तहत परियोजनाओं की लागत केंद्र और राज्यों के बीच समान रूप से साझा की जाती है।
vi.निर्यात संवर्धन परिषदों, कमोडिटी बोर्ड, एसईजेड प्राधिकरण और शीर्ष व्यापार निकाय जैसे केंद्रीय और राज्य एजेंसियां ​​इस योजना के तहत वित्तीय सहायता प्राप्त करने के पात्र हैं।
vii.केंद्र सरकार अनुदान सहायता के रूप में वित्त पोषित करेगी, लेकिन आमतौर पर कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा लगाई जा रही इक्विटी या परियोजना में कुल इक्विटी का 50% से अधिक नहीं।
भारत में कुछ महत्वपूर्ण मंदिर:
♦ मीनाक्षी अम्मान मंदिर – मदुरै, तमिलनाडु
♦ बृहदाश्वर मंदिर – तंजावुर, तमिलनाडु
♦ सोमनाथ मंदिर – गिर सोमनाथ जिला, गुजरात

अंतरराष्ट्रीय समाचार

ई-कचरा उत्पन्न करने में शीर्ष 5 देशों में भारत: एसोचैम और एनईसीIndia among top 5 nations in e-waste generation: ASSOCHAM & NECi.ओ.एसोचैम और एनईसी द्वारा जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक, 4 जून, 2018 को भारत ई-कचरे के उत्पादन में शीर्ष 5 देशों में से एक है। यह अध्ययन 5 जून (विश्व पर्यावरण दिवस) से पहले किया गया था।
ii.भारत के अलावा अन्य देश चीन, अमेरिका, जापान और जर्मनी हैं।
iii.2016 में उत्पन्न कुल ई-कचरे में से केवल 20% (8.9 मीट्रिक टन) का पुनर्नवीनीकरण किया गया है और बाकी के पास कोई रिकॉर्ड नहीं है।
iv.राज्यों में महाराष्ट्र 19.8% के साथ पहले स्थान पर है, तमिलनाडु 13%, उत्तर प्रदेश 10.1%, पश्चिम बंगाल 9.8%, दिल्ली 9.5%, कर्नाटक 8.9%, गुजरात 8.8%, मध्य प्रदेश 7.6%।
v.20% की वार्षिक वृद्धि दर पर ई-कचरे की वैश्विक मात्रा 2016 में 47.7 मीट्रिक टन से 2021 तक औसतन 52.2 मिलियन टन या 6.8 किलोग्राम प्रति व्यक्ति हो जाएगी।

वाणिज्य मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने पेरिस में डब्ल्यूटीओ की अनौपचारिक सभा में भाग लिया:
i.4 जून, 2018 को वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने पेरिस में विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के मंत्रियों के अनौपचारिक सम्मेलन में शिरकत की।
ii.28 सदस्य राज्यों के वाणिज्य मंत्री और डब्ल्यूटीओ के महानिदेशक इस मौके पर उपस्थित थे।
iii.उन्होंने व्यापार के लिए राजनीतिक भागीदारी की आवश्यकता पर बल दिया।
iv.ईकॉमर्स में एक वर्क प्रोग्राम है जिसमें भारत एक सक्रिय सदस्य है।
v.सुरेश प्रभु ने जोर देकर कहा कि विकासशील और कम विकसित देशों के साथ बहुपक्षीय काम करने से व्यापारियों को बढ़ावा देने और डब्ल्यूटीओ द्वारा सामना की जाने वाली चुनौतियों का समाधान करने में मदद मिलेगी।
विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ):
♦ मुख्यालय – जिनेवा, स्विट्ज़रलैंड

बैंकिंग और वित्त

तेलंगाना सरकार की योजना ‘ऋतु बंधु’ के लिए 5400 करोड़ रुपये दिए गए: आरबीआईGovt Appoints IDBI Bank MD Mukesh Kumar Jain As fourth RBI Deputy Governori.4 जून, 2018 को आरबीआई ने मई 2018 में लॉन्च तेलंगाना गवर्नमेंट के निवेश कार्यक्रम ‘ऋतु बंधु’ के कार्यान्वयन के लिए 5400 करोड़ रुपये की आपूर्ति की थी।
ii.इस योजना के तहत राज्य सरकार चेक द्वारा दो सत्रों के लिए 4000 रूपये प्रति हेक्टेयर देगी।
iii.सरकार इस योजना में बजट के रूप में 12000 करोड़ आवंटित किए गए हैं।
iv.बैंकों और राज्य वित्तीय विभाग को कुल 4500 करोड़ रुपये की राशि दी गई थी।
v.एसबीआई की अध्यक्षता में बैंकों द्वारा कुल 59 लाख चेक भेजे गए हैं।
vi.मौजूदा सीजन में योजना के लिए कुल आवश्यकता 5700 करोड़ रुपये की है।

सरकार एसबीआई की तरह 4 और बैंको के विलय की योजना बना रही है:
i.4 जून, 2018 को, एसबीआई विलय की सफलता के बाद, सरकार 4 बैंकों बैंक ऑफ बड़ौदा, सेंट्रल बैंक, आईडीबीआई बैंक, ओरिएंटल बैंक के एक और बड़े विलय की योजना बना रही है।
ii.इन चार बैंकों का संयुक्त नुकसान 31 मार्च के वित्तीय वर्ष के अंत में 21,646.38 करोड़ रुपये है।
iii.सरकार एसबीआई जैसे 4-5 वैश्विक आकार के उधारदाताओं बैंको को बनाने की योजना बना रही है।
iv.यह एसबीआई के 16.58 ट्रिलियन डॉलर की संयुक्त संपत्ति के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा बैंक बन जाएगा।
कुछ बैंको की टैगलाइन:
♦ बैंक ऑफ बड़ौदा – भारत का अंतर्राष्ट्रीय बैंक।
♦ आईडीबीआई बैंक – आओ सोचे बड़ा।
♦ ओरिएंटल बैंक – जहां प्रत्येक व्यक्ति प्रतिबद्ध है।
♦ सेंट्रल बैंक – 1911 से आप के लिए केंद्रीय।

नियुक्तियां और इस्तीफे

विजय महाजन राजीव गांधी फाउंडेशन के सचिव, सीईओ और राजीव गांधी समकालीन अध्ययन संस्थान के निदेशक नियुक्त किए गए:
i.4 जून, 2018 को, श्री विजय महाजन को राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) के सचिव और सीईओ और राजीव गांधी समकालीन अध्ययन संस्थान (आरजीआईसीएस) के निदेशक के रूप में चुना गया।
ii.वह एक सामाजिक उद्यमी और एनजीओ ‘प्रदान’ के सह-संस्थापक हैं जो युवा उद्यमियों को देश में गरीबों की आजीविका और बेसिक्स सोशल एंटरप्राइज ग्रुप के लिए काम करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं जो सूक्ष्म वित्त के साथ 3 मिलियन गरीब परिवारों की सहायता करता है।
iii.उन्होंने भारत के बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई), रंगराजन समिति और रघुराम राजन समिति पर पहले काम किया है।
आरजीएफ और आरजीआईसीएस के बारे में:
आरजीएफ 1991 में पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गांधी और उनके विचारों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए स्थापित एक ट्रस्ट है और आरजीआईसी आरजीएफ के तहत एक थिंक टैंक है जो भारत द्वारा सामना की जाने वाली सामाजिक चुनौतियों पर अनुसंधान और विकास पर काम करता है।

सरकार ने आईडीबीआई बैंक के प्रबंध निदेशक मुकेश कुमार जैन को चौथे भारतीय रिजर्व बैंक उप गवर्नर के रूप में नियुक्त किया:Govt Appoints IDBI Bank MD Mukesh Kumar Jain As fourth RBI Deputy Governori.4 जून,2018 को आईडीबीआई बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मुकेश कुमार जैन को 3 साल की अवधि के लिए चौथे भारतीय रिजर्व बैंक के उपाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है।
ii.वह मार्च 2017 से आईडीबीआई के सीईओ थे और पहले वह चेन्नई स्थित इंडियन बैंक के सीईओ थे।
iii.वह एस.एस.मुंद्रा की जगह लेंगे जिनका कार्यकाल जुलाई 2017 में समाप्त हुआ था।
iv.अन्य मौजूदा उप गवर्नर श्री बी.पी.कनुनगो, डॉ विरल वी.आचार्य, श्री एन.एस.विश्वनाथन है।
भारतीय रिजर्व बैंक:
♦ मुख्यालय: मुंबई।
♦ 24 वें गवर्नर: डॉ उर्जित पटेल।

मेडागास्कर के प्रधान मंत्री ने इस्तीफे की घोषणा की:
i.4 जून 2018 को, मेडागास्कर के प्रधान मंत्री ओलिवियर महाफली सोलोनंद्रासाना ने अपने इस्तीफे की घोषणा की।
ii.21 अप्रैल 2018 से मेडागास्कर में हिंसक विरोध प्रदर्शन हो रहे है। विरोधों ने शुरू में नए कानूनों का विरोध किया, जिसको विपक्षीयो ने उनके उम्मीदवारों को आने वाले चुनावों में भाग लेने पर रोक लगाने के प्रयास के रूप में देखा था।
iii.संवैधानिक न्यायालय ने मेडागास्कर राष्ट्रपति राजोनारिमैम्पियाना को सर्वसम्मति प्रधान मंत्री के साथ राष्ट्रीय एकता की सरकार बनाने का आदेश दिया है।
iv.इसके अनुसार, मौजूदा सरकार को इस्तीफा देना पड़ा और राष्ट्रपति को 12 जून 2018 तक एक नए प्रधान मंत्री का नाम देने का आदेश दिया गया।

विज्ञान व प्रौद्योगिकी

नासा के मिनी उपग्रह सफलतापूर्वक मंगल की ओर बढे:
i.नासा ने कहा है कि, दुनिया के पहले मिनी-उपग्रहों को गहरे अंतरिक्ष में प्रवेश करने के लिए, जिन्हें नासा के इनसाइट मंगल लैंडर की निगरानी के लिए डिजाइन किया गया था, सफलतापूर्वक मंगल की ओर बढ़ रहे हैं।
ii.पिछले हफ्ते में, मार्को-ए और मार्को-बी नामक दो क्यूबैट्स ने मंगल की ओर खुद को ले जाने के लिए अपने प्रोपल्सन सिस्टम शुरू कर दिए।
iii.इन्हें 5 मई 2018 को इनसाइट लैंडर के साथ लॉन्च किया गया था। उन्हें मंगल के रास्ते पर इनसाइट के पीछे चलने के लिए डिज़ाइन किया गया था।
iv.उनका उद्देश्य इनसाइट के बारे में डेटा वापस भेजना है जैसे ही यह मंगल के वायुमंडल में प्रवेश करेगा और जमीन पर उतरने की कोशिश करेगा।
नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) के बारे में:
♦ प्रशासक – जिम ब्रिडेनस्टीन
♦ मुख्यालय – वाशिंगटन, डीसी, यू.एस.

खेल

एरिया जुटनुर्गन थाईलैंड की पहली खिलाड़ी बनी जिन्होंने 73 वें अमेरिकी महिला ओपन (गोल्फ) में ट्रॉफी जीती:
i.3 जून 2018 को, एरिया जुटनुर्गन ने संयुक्त राज्य अमेरिका के शोल क्रीक, अल्बामा कोर्स में 73 वें अमेरिकी महिला ओपन को जीता।
ii.एरिया जुटनुर्गन 22 वर्ष की है। वह बैंकाक से है। वह थाईलैंड से अमेरिकी महिला ओपन खिताब जीतने वाली पहली खिलाड़ी बन गई है।
iii.उनके बाद दक्षिण कोरिया की किम हाओ-जू दूसरे स्थान पर रही।
iv.स्पेन की कार्लोटा सिगांडा तीसरे स्थान पर, और अमेरिकी डेनियल कांग चौथे स्थान पर रही।
भारत में कुछ महत्वपूर्ण स्टेडियम:
♦ ईडन गार्डन – कोलकाता, पश्चिम बंगाल
♦ जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम – कोच्चि, केरल
♦ राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम – हैदराबाद, तेलंगाना

महत्वपूर्ण दिन

आक्रमण के शिकार हुए मासूम बच्चों का अंतर्राष्ट्रीय दिवस: 4 जूनInternational Day of Innocent Children Victims of Aggression - 4 Junei.4 जून 2018 को, आक्रमण के शिकार हुए मासूम बच्चों के अंतर्राष्ट्रीय दिवस को पूरे विश्व में मनाया गया था।
ii.19 अगस्त 1982 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 4 जून को आक्रमण के शिकार हुए मासूम बच्चों के अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में घोषित किया था।
iii.बच्चों द्वारा सामना किए जाने वाले छह सबसे आम उल्लंघन हैं: युद्ध, हत्या, यौन हिंसा, अपहरण, स्कूलों और अस्पतालों पर हमलों का उपयोग, और मानवीय पहुंच से वंचित करना।
भारत में कुछ महत्वपूर्ण संग्रहालय:
♦ विशाखा संग्रहालय – विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश
♦ संस्कृत केंद्र संग्रहालय – दिल्ली
♦ कच्छ संग्रहालय – भुज, गुजरात

तियानानमेन नरसंहार की 29 वीं वर्षगांठ:
i.4 जून 2018 को, तियानानमेन नरसंहार की 29 वीं वर्षगांठ मनाई गई।
ii.बीजिंग में तियानानमेन स्क्वायर क्रैकडाउन की 29 वीं वर्षगांठ मनाने के लिए हांगकांग में 10,000 से अधिक कार्यकर्ता इकट्ठे हुए।
iii.इस साल के अनुष्ठान ने ‘कैद या घर गिरफ्तारी’ से मुक्त करने पर ध्यान केंद्रित किया और मुख्य भूमि चीन में अधिक लोकतंत्र के लिए दबाव डाला।
iv.1989 के तियानानमेन स्क्वायर विरोध चीन में चौथे जून की घटना के रूप में भी जाना जाता है। 1989 में, छात्रों ने बीजिंग में प्रदर्शन किया।
v.चीनी प्रीमियर ली पेंग ने मार्शल लॉ घोषित करने के बाद विरोध को जबरन दबा दिया गया। इसे तियानानमेन स्क्वायर नरसंहार के रूप में जाना जाता है।
vi.सैनिकों ने कई सौ प्रदर्शनकारियों की हत्या कर दी। 180 से 10,454 तक मौतों की संख्या का अनुमान लगाया जाता है।
भारत में कुछ महत्वपूर्ण बांध:
♦ पांडोह बांध – ब्यास नदी
♦ तुंगभद्र बांध – तुंगभद्र नदी